अहमदाबाद/ नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा को भारत और अमेरिका के संबंधों में नया अध्याय करार देते हुए सोमवार को कहा कि यह दोनों देशों के लोगों की प्रगति और समृद्धि का एक नया दस्तावेज बनेगा. मोदी ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से कहा- विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र में आपका स्वागत है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मोटेरा स्टेडियम में  कहा, ‘नमस्ते ट्रंप’. मोदी ने  ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में कहा- नया इतिहास रचा जा रहा है. Also Read - सेना के आदेश से बचने के लिए म्यांमार के तीन पुलिस अधिकारियों ने ली मिजोरम में शरण, कई और लोग भी आए

अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया के स्वागत में आयोजित ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”भारत-अमेरिका के संबंध अब केवल गठजोड़ तक ही नहीं हैं. यह इससे काफी आगे और करीबी रिश्ते हैं.” उन्होंने कहा कि आज मोटेरा स्टेडियम में एक नया इतिहास बन रहा है, आज हम इतिहास को दोहराते हुए भी देख रहे हैं. Also Read - Ease of Living Index: रहने के लिए सबसे अच्छा है देश का यह शहर, सरकार ने जारी की लिस्ट

पीएम ने कहा, भारत-अमेरिका संबंध अब केवल एक और साझेदारी नहीं हैं. यह कहीं अधिक बड़ा और घनिष्ठ संबंध है. इस कार्यक्रम का जो नाम है- नमस्ते, उसका मतलब भी बहुत गहरा है! ये दुनिया की प्राचीनतम भाषाओं में से एक, संस्कृत का शब्द है. इसका भाव है कि सिर्फ व्यक्ति को ही नहीं, उसके भीतर व्याप्त Divinity को भी नमन. Also Read - WATCH: मैदान पर भिड़े विराट कोहली-बेन स्टोक्स; अंपायर को रोकना पड़ा झगड़ा

मोदी ने कहा, ”एकता और विविधता भारत और अमेरिका के बीच मजबूत रिश्ते का आधार है. एक मुक्त भूमि का देश है, तो दूसरा पूरे विश्व को एक परिवार मानता है.”

प्रधानमंत्री ने कहा कि एक को स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी पर गर्व है, तो दूसरे को, दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा- सरदार पटेल की स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर. उन्होंने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा भारत और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय है, एक ऐसा अध्याय, जो अमेरिका और भारत के लोगों की प्रगति और समृद्धि का एक नया दस्तावेज बनेगा.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”इस कार्यक्रम का नाम ‘नमस्ते ट्रंप’ है और नमस्ते का मतलब भी बहुत गहरा है. यह दुनिया की प्राचीनतम भाषाओं में से एक, संस्कृत का शब्द है. इसका भाव है कि सिर्फ व्यक्ति को ही नहीं, उसके भीतर व्याप्त अध्यात्म को भी नमन.”

मोदी ने कहा कि प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप का यहां होना सम्मान की बात है. उन्होंने कहा, ”स्वास्थ्य और खुशहाल अमेरिका के लिए आपने जो किया है, उसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं. समाज में बच्चों के लिए आप जो कर रही हैं, वह प्रशंसनीय है.”

प्रधानमंत्री मोदी ने मोटेरा स्टेडियम में उपस्थित लोगों को संबोधितते हुए कहा, ”आप कल्पना कर सकते हैं कि वह (ट्रंप) अमेरिका से सीधे यहां पहुंचे हैं, इतनी लंबी यात्रा के बाद भी राष्ट्रपति ट्रंप और उनका परिवार सीधे साबरमती आश्रम पहुंचे और उसके बाद यहां आए.” पीएम मोदी ने समारोह में मौजूद ट्रंप की पुत्री इवांका, दामाद जेरेड कुश्नर का भी स्वागत किया.

 

 

पीएम मोदी ने कहा, एक Land Of the Free है, तो दूसरा पूरे विश्व को एक परिवार मानता है. एक को Statue Of Liberty पर गर्व है तो दूसरे को, दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा- सरदार पटेल की Statue Of Unity का गौरव है.बहुत कुछ है जो हम साझा करते हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा, आज 130 करोड़ भारतवासी मिलकर न्यू इंडिया का निर्माण कर रहे हैं. हमारी युवा शक्ति aspirations से भरी हुई है. बड़े लक्ष्य रखना, उन्हें प्राप्त करना, आज न्यू इंडिया की पहचान बन रहा है.

पीएम ने कहा, आज भारत में दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम ही नहीं है, आज भारत दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ एश्योरेंस स्कीम भी चला रहा है. आज भारत में दुनिया का सबसे बड़ा सोलर पार्क ही नहीं बन रहा, आज भारत में दुनिया का सबसे बड़ा सेनीटेशन प्रोग्राम भी चल रहा है.

पीएम ने कहा, आज भारत एक साथ सबसे ज्यादा सैटेलाइट भेजने का वर्ल्ड रिकॉर्ड ही नहीं बना रहा, आज भारत सबसे तेज Financial Inclusion करके भी वर्ल्ड रिकॉर्ड बना रहा है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, आज जो देश भारत का Largest Trading Partner है, वो है अमेरिका. आज भारत की सेनाएं जिस देश के साथ सबसे ज्यादा युद्ध अभ्यास कर रही हैं- वो है अमेरिका. आज जिस देश के साथ भारत की सबसे व्यापक रीसर्च एंड डवलपमेंट पार्टनरशिप है- वो है अमेरिका.

पीएम मोदी ने ट्रंप के स्‍वागत में कहा, 21वीं सदी में, नए Alignments, नए Competition, नए Challenges और नई Opportunities, बदलाव की नींव रख रहे हैं। भारत और अमेरिका के संबंध और सहयोग की, 21वीं सदी के विश्व की दिशा तय करने में महत्वपूर्ण भूमिका होगी. मेरा स्पष्ट मत है कि भारत और अमेरिका Natural Partners हैं.

पीएम ने कहा, आप कहती हैं- Be Best ! आपने अनुभव किया होगा कि आज के स्वागत समारोह में भी लोगों की यही भावना प्रकट हो रही है. First Lady मेलानिया ट्रंप, आपका यहां होना सम्मान की बात है. Healthy और Happy America के लिए आपने जो किया है, उसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं. समाज में बच्चों के लिए आप जो कर रही हैं, वो प्रशंसनीय है.

पीएम ने कहा,  हम सिर्फ Indo-Pacific Region में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया की Peace, Progress और Security में एक प्रभावी योगदान दे सकते हैं. और इसलिए, मैं मानता हूं कि प्रेसिडेंट ट्रंप का इस दशक की शुरुआत में ही भारत आना, एक बहुत बड़ा अवसर है.