कोलकाता। कोलकाता में एटीएम धोखाधड़ी के एक मामले में पुलिस ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई बीच में छोड़नेवाले छात्र समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी. अधिकारी ने बताया कि इन लोगों के पास से एटीएम कार्ड की जानकारी अवैध तरीके से चुराने वाले दो उपकरण, मोबाइल फोन, एक लैपटॉप और कई पिनहोल कैमरे जब्त किए गए हैं.

गार्ड की होशियारी से पकड़ा गया

उन्होंने बताया कि दक्षिणी कोलकाता के एलगिन रोड में एक एटीएम के सुरक्षा गार्ड ने एक व्यक्ति को एटीएम मशीन में स्किमिंग उपकरण डालते हुए कल पकड़ा था. कोलकाता पुलिस ने गार्ड को उसकी बहादुरी के लिए पुरस्कृत किया. इन लोगों का मकसद एटीएम कार्ड की क्लोनिंग को बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी करना था.

एटीएम कार्ड का क्‍लोन बनाकर सुनसान इलाकों से निकालते थे रुपए, साइबर सेल ने दबोचा

अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए व्यक्ति की पहचान रोहित नायर के रूप में हुई है. वह मुंबई के एक इंजीनियर कॉलेज में पढ़ता था लेकिन बीच में ही पढ़ाई छोड़ दी थी. नायर के दो सहयोगी साहिल खान और सुधीर राजन को कल हवाई अड्डा क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया.

रोमानियाई गिरोह सक्रिय

तीन अगस्त को 3 रोमानियाई नागरिकों की गिरफ्तारी के बाद हुई पूछताछ के बाद गिरोह का भांडाफोड़ हुआ था. रोमानियाई गैंग ने कोलकाता के लोगों के बीच इस बात की दहशत फैला दी कि अगर कोई एटीएम में पैसे निकालने गया तो उसके कार्ड की क्लोनिंग हो जाएगी और बैंक अकाउंट से पैसे निकाल लिए जाएंगे.  गुरुवार को इस गिरोह को कोर्ट में पेश किया गया जहां से उन्हें 21 अगस्त तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया.