ज़ी मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड के रीजनल चैनल ZEE 24 कलक ने 29 मई 2020 को कैबिनेट और राज्य मंत्रियों सहित 10 मंत्रियों के साथ एक ई कॉन्क्लेव का आयोजन किया. 29 मई को आयोजित इस ई-कॉनक्लेव में सीधे मंत्रियों के साथ ई-विमर्श किया गया. लगातार 3 घंटे तक चले इस कॉनक्लेव में विभिन्न विभागों के मंत्रियों ने भाग लिया. Also Read - गुजरात में भारी बारिश; असम में बाढ़ की स्थिति में सुधार, कुछ ऐसा है बाकी जगहों का हाल

6500 से अधिक कोरोना पॉजिटिव मामलों के साथ, गुजरात महाराष्ट्र और दिल्ली के बाद सबसे ज्यादा कोरोना मामलों वाला राज्य है और इस मामले में तीसरे नंबर पर है. गुजरात में अधिकांश मामले मुख्य रूप से अहमदाबाद में पाए गए हैं. लॉकडाउन के 2 महीने बाद, गुजरात ने कई चुनौतियों का सामना किया है जैसे अपने लोगों को तेजी से बढ़ रहे कोरोना मामलों से बचाना, अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करना ताकि आजीविका को बहाल किया जा सके आदि. Also Read - गुजरात के कई जिलों में भारी बारिश, अगले तीन दिनों तक जारी रह सकता है कहर

जैसा इस समय गुजरात की जनता इस स्थिति से निटपने और अपने भविष्य को लेकर चिंतित है. ऐसे में Zee 24 कलक ने कैबिनेट मंत्रियों और राज्य मंत्रियों के साथ ई-कॉनक्लेव आयोजित करने की पहल की, ताकि हमारे दर्शकों व गुजरात के लोगों को अपने राज्य के भविष्य की बेहतर तस्वीर मिल सके. Also Read - कॉमन सर्विस सेंटर में काम करने वाली देश की पहली ट्रांसजेंडर ऑपरेटर बनी जोया खान, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद किया ट्वीट

हर सेशन 20 से 25 मिनट तक चला. यहां नेता अपने संबंधित विभाग को लेकर आने वाले समय की रणनीति के बारे में बता रहे थे. इस दौरान वे हमारे दर्शकों को मजबूत बने रहने के लिए प्रोत्साहित भी कर रहे थे. सेशन में भाग लेने वाले मंत्रियों में थे: राजेंद्र त्रिवेदी, कौशिक पटेल, सौरभ पटेल, गणपत वसावा, जयेश रादडिया, जवाहर चावड़ा, ईश्वर परमार, योगेश पटेल, विभावरी दवे और ईश्वरसिंह पटेल. इस कॉनक्लेव में विभिन्न मंत्रालयों को शामिल किया गया ताकि दर्शक विभिन्न सेक्टर्स के रिवाइवल प्लान के बारे में जानकारी हासिल कर सकें.

इस अवसर पर ZMCL क्लस्टर 2 के सीईओ, पुरुषोत्तम वैष्णव ने कहा, “मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ माना जाता है और एक जिम्मेदार मीडिया संगठन के रूप में हम अपने दर्शकों के प्रति अपने कर्तव्यों को समझते हैं. इसलिए, हाल ही में विभिन्न राज्यों के सीएम के साथ ई-कॉन्क्लेव आयोजित करने के बाद, हमने इसे क्षेत्रीय स्तर तक विस्तार किया. ZEE 24 कलक ने राज्य सरकार के वरिष्ठ मंत्रियों को सीधे अपने दर्शकों से रू-ब-रू कराने के लिए इस कार्यक्रम को आयोजित किया.”

गुजरात ई-विमार्श के सफल समापन के बाद, आने वाले दिनों में, इसी तरह के सम्मेलन अन्य राज्यों और COVID 19 व लॉकडाउन से प्रभावित विभिन्न क्षेत्रों के लिए भी किए जाएंगे.