Vaccination for Children: केंद्र सरकार के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार 12 से 14 साल की उम्र के बच्चों के टीकाकरण पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है. दरअसल सोमवार को NTAGI के अध्यक्ष एनके अरोड़ा ने कहा था कि भारत में 12 से 14 साल के बच्चों का टीकाकरण मार्च से शुरू हो सकता है. इसके बाद बच्चों के टीकाकरण को लेकर तेजी से चर्चा होने लगी. इसी बीच केंद्र सरकार की तरफ से साफ किय़ा गया है कि बच्चों के टीकाकरण पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है. एनके अरोड़ा ने अपने बयान में कहा था कि मार्च तक 15 से 18 साल के टीनएजर्स का टीकाकरण पूरा हो जाएगा, ऐसे में उम्मीद है कि 12 से 14 साल के बच्चों का टीकाकरण मार्च से शुरू हो सकता है.Also Read - वैक्सीनेशन पर SC का फैसला, कहा- बाध्य नहीं कर सकती सरकार; मौजूदा वैक्सीन नीति को बताया सही

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार देश में अबतक कोविड-19 रोधी टीकों की 1,57,91,63,478 खुराक दी जा चुकी हैं.देश में पिछले साल 16 जनवरी को कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान स्वास्थ्यकर्मियों को खुराक देने के साथ शुरू किया गया था. बाद में धीरे-धीरे अन्य उम्रवर्ग को शामिल किया गया, पिछले साल एक मई के बार 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को कोविड-19रोधी टीका देने का फैसला किया गया. Also Read - अब बच्चों को भी लगेगा कोरोना का टीका, 5-12 साल तक के उम्र के लिए तीन वैक्सीन को मंजूरी; जानें क्या बोले स्वास्थ्य मंत्री

भारत में सोमवार को कोविड-19 रोधी टीकों की 68 लाख से अधिक खुराक दी गईं. इसके साथ ही देश में अब तक टीकों की 157.91 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी. देर रात तक दिन के आंकड़े को अंतिम रूप दे देने के बाद रोजाना टीकाकरण आंकड़ा बढ़ सकता है. इस आंकड़े के अनुसार स्वास्थ्य कर्मियों, अग्रिम मोर्चा कर्मियों और 60 साल से अधिक उम्र के गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों को कोविड-19 रोधी टीकों की 50 लाख से अधिक एहतियाती खुराक दी गयींच. Also Read - अच्छी खबर! अब पांच से 12 साल के बच्चों को भी लगेगा टीका, सरकारी पैनल ने की 'कोर्बेवैक्स' वैक्सीन की सिफारिश