Weather News Today: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में आज फिर मौसम का मिजाज बदलेगा. मौसम विभाग ने दिल्ली-NCR में बारिश की संभावना जताई है. मौसम विभाग ने बताया कि दिल्ली-NCR, गुरुग्राम, मानेसर, बिजनौर, चांदपुर के अलग-अलग स्थानों पर आज फिर हल्की से मध्यम तीव्रता के साथ गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं. इसके साथ-साथ मौसम विभाग ने महाराष्ट्र के दो जिलों के लिए भारी बारिश का ‘रेड अलर्ट’ जारी भी जारी किया है. इसके अलावा आगरा, बरसाना, गढ़मुक्तेश्वर, हस्तिनापुर, खतोली, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, बिजनौर, चांदपुर में भी अगले कुछ घंटों में हल्की से मध्यम तीव्रता की बारिश होगी. Also Read - Weather Update: कर्नाटक, केरल के कई हिस्सों में भारी बारिश, ओडिशा और बंगाल में भारी बारिश की संभावना

बता दें कि दिल्ली में रविवार को आर्द्रता का स्तर 91 प्रतिशत पहुंच गया, वहीं अधिकतम तापमान 36.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस अधिक है. मौसम वैज्ञानिकों ने दिल्ली में अगले दो दिन केवल हल्की और कहीं-कहीं बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त किया है. असम में बाढ़ के हालात में थोड़ा सुधार हुआ है और रविवार को राज्य में इस आपदा से प्रभावित लोगों की संख्या में कमी आई.

बिहार में बाढ़ का प्रकोप
बिहार में बाढ़ का प्रकोप बना हुआ है. राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार राज्य में बाढ़ से प्रभावित लोगों की संख्या पिछले 24 घंटे में करीब 12,500 बढ़ गई और 16 जिलों में अब तक 81,44,356 लोग इस आपदा की चपेट में आये हैं. विभाग के अनुसार रविवार को बाढ़ से कोई नया जिला प्रभावित नहीं हुआ.

ओडिशा के कई हिस्सों में बाढ़ जैसे हालात
बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण भारी बारिश होने से ओडिशा के कई हिस्सों में रविवार को बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई. कच्चे मकान क्षतिग्रस्त हो गये, फसल को नुकसान पहुंचा और दो लोगों की मौत हो गई. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

महाराष्ट्र के दो जिलों में ‘रेड अलर्ट’
मौसम विभाग ने महाराष्ट्र के पुणे और सतारा जिलों में छिटपुट स्थानों पर सोमवार को अत्यधिक भारी बारिश होने का ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि मौसम के पूर्वानुमान में मुंबई, रायगढ़ और पालघर में सोमवार को भारी बारिश होने की भी बात कही गई है. मंगलवार से बारिश में कमी आने लगेगी. भारत मौसम विभाग ने 24 घंटों में न्यूनतम 204.5 मिमी बारिश होने को अत्यधिक वर्षा की श्रेणी में रखा है. रेड अलर्ट के तहत अधिकारी नुकसान को न्यूनतम करने के लिये एहतियाती कदम उठाते हैं.

(इनपुट: भाषा)