Jharkhand News: झारखंड की राजधानी रांची (Ranchi) में कश्मीर (Kashmir) के रहने वाले 6 युवकों पर लोगों के एक झुंड ने हमला कर दिया. करीब 20 लोगों ने कश्मीरी युवकों से मारपीट की. और उन पर धार्मिक नारों को दोहराने का दबाव बनाया. इसके बाद यहां जमकर बवाल हुआ. घटना के विरोध में लोगों ने सड़क जाम कर दी. पुलिस ने तीन लोगों को इस मामले में हिरासत में लिया है. पिछले 20 दिनों में ये दूसरी घटना है जब कश्मीरी युवकों पर हमला किया गया और उनका सामान लूट लिया.Also Read - जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़, दो को मार गिराया

मामला रांची के डोरंडा थाना क्षेत्र का है. फेरी लगाकर गर्म कपड़े बेचने वाले पांच-छह कश्मीरी युवकों के साथ लोगों ने मारपीट की. इस घटना के विरोध में कश्मीरी युवकों और स्थानीय लोगों ने लगभग 20 मिनट तक डोरंडा में सड़क जाम कर दी. घटना के विरोध में बड़ी संख्या में लोग डोरंडा थाने पहुंचे और कश्मीरी युवकों से मारपीट करनेवालों की गिरफ्तारी की मांग की. Also Read - Jammu Kashmir: बर्फ से ढके पहाड़ों पर 7-8 घंटे पैदल चलकर लगाने जाते हैं कोरोना वैक्सीन, तस्वीरें देख स्वास्थ्यकर्मियों को करेंगे सलाम!

पिछले बीस दिनों के अंदर यह दूसरी बार है, जब रांची में गर्म कपड़े बेचनेवाले कश्मीरी युवकों से मारपीट की गयी है. मो. बुरहान, मो. तनवीर, मो. सरताज, मो. रियाज और गुलाम नबी का आरोप है कि वे कपड़े बेचने जा रहे थे, तब कडरूपुल के पास बीस की संख्या में बदमाशों ने उनपर हमला किया और उनके कई सामान लूट लिये. मारपीट करनेवालों ने उनपर धार्मिक नारे लगाने का भी दबाव दिया. इस घटना के बाद कश्मीरी युवकों और स्थानीय लोगों ने करीब 20 मिनट तक सड़क जाम कर दिया. Also Read - दोस्तों को बुलाकर अपनी ही पत्नी से कराता था गैंगरेप, पति चौंकाने वाले तरीके से करता था प्रताड़ित, अब...

पुलिस के मौके पर पहुंचने और कार्रवाई के आश्वासन के बाद उन्होंने सड़क जाम हटाया. इसके बाद बड़ी संख्या में लोगों ने डोरंडा थाना पहुंचकर घटना का विरोध जताया. पुलिस ने कहा है कि मामले की जांच की जा रही है. मारपीट का आरोप लगानेवाले कश्मीरी युवकों का बयान दर्ज किया जा रहा है. आरोप सही पाये जाने पर पकड़े गये लोगों को जेल भेजा जा सकता है. मारपीट करने और सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी. इधर मारपीट के आरोप में पकड़े गये तीनों युवकों ने खुद को निर्दोष बताया है.

बता दें कि इसके पहले भी 11 नवंबर को डोरंडा थाना क्षेत्र के हाथीखाना पत्थर रोड में कुछ लोगों ने चार कश्मीरी युवकों के साथ मारपीट की थी और उनसे जबरन कुछ नारे दोहराने को कहा था. पीड़ित युवक बिलाल अहमद, शब्बीर अहमद, वसीम अहमद की शिकायत पर एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया था.