Bihar Assembly Election 2020: चारा घोटाला (Fodder Scam) मामले में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू यादव के लिए आज का दिन बेहद खास है. आज चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी के मामले में लालू यादव (Lalu Yadav) की जमानत याचिका पर रांची हाईकोर्ट में सुनवाई होनी है. लालू यादव की जमानत की अर्जी काफी अहम है मानी जा रही है. कुछ समय पहले लालू प्रसाद ने झारखंड हाईकोर्ट में जमानत के लिए आवेदन किया है. इससे पहले, उन्हें चारा घोटाला के तीन मामलों में जमानत दी गई थी. Also Read - School Reopening News: इस राज्य में आज से खोले गए स्कूल, इन नियमों का रखना होगा खास ध्यान...

रांची हाईकोर्ट में जस्टिस अपरेस सिंह की अदालत में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होने वाली सुनवाई के लिए हाई कोर्ट के कॉज़ लिस्ट के नंबर सात पर चारा घोटाले से संबंधित मामला सूचीबद्ध है. दरअसल चाईबासा कोषागार से तकरीबन 37 करोड़ की अवैध निकासी के मामले में लालू यादव को 24 जनवरी 2018 को 5 साल की सजा सुनाई गई थी. Also Read - तेजस्वी यादव का बयान- बिहार की जनता ने दिया मौका, तो 2 महीने में 10 लाख रोजगार दूंगा

बता दें कि चारा  घोटाला मामले में लालू यादव ने जेल में ढाई साल से ज्यादा का वक्त गुजार लिया है. इसी को आधार बनाते हुए लालू यादव के अधिवक्ता की तरफ से हाई कोर्ट में जमानत अर्जी दाखिल की गई है. यह सुनवाई आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी. Also Read - Bihar Assembly Election 2020: चुनाव से पहले भाजपा ने बदली टीम, कौन अंदर-कौन बाहर

लालू की जमानत याचिका में ये भी कहा गया कि उन्होंने आधी सजा पूरी कर ली है और उनका स्वास्थ्य भी अच्छा नहीं रहता है. वो कई तरह की बीमारी आदि से पीड़ित है. आज की सुनवाई में रांची हाईकोर्ट के अंदर किसी को भी आने की अनुमति नहीं दी जाएगी. बता दें कि लालू की जमानत के मामले में 28 अगस्त को इस मामले में सुनवाई हुई थी लेकिन सुनवाई पूरी नहीं हो पाने के कारण आज की तारीख मुकर्रर की गई थी.

फिलहाल लालू यादव का रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती हैं. पहले वो रिम्स के पेइंग वार्ड में रहते थे लेकिन अब कोरोना संक्रमण के मद्देनजर उन्हें डायरेक्टर बंगले में रखा गया है.

नेता प्रतिपक्ष और लालू के बेटे तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा है कि उच्च न्यायलय पर हम लोगों को पूरा भरोसा है कि लालू जी को न्याय जरूर मिलेगा.आधी सज़ा पूरी हो जाने के बाद जमानत में कोई रुकावट नहीं होती.