नई दिल्ली: भारत निर्वाचन आयोग शुक्रवार अपराह्न् झारखंड विधानसभा चुनाव की तिथियों की घोषणा करने जा रहा है. झारखंड विधानसभा का कार्यकाल 27 दिसंबर को समाप्त होगा. यह चुनाव ऐसे समय में होने जा रहा है, जब हरियाणा और महाराष्ट्र चुनावों में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उम्मीदों के अनुरूप परिणाम नहीं आए हैं.

 

हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व वाली भाजपा बहुमत के जादुई आंकड़े को पार नहीं कर सकी और उसे सरकार बनाने के लिए जननायक जनता पार्टी (जजपा) का समर्थन हासिल करना पड़ा. महाराष्ट्र में भाजपा सरकार बनाने को लेकर अपने सहयोगी दल शिवसेना के साथ सत्ता संघर्ष में उलझी हुई है. भाजपा महाराष्ट्र में अपने दम पर सरकार बनाने में सक्षम नहीं है और बहुमत से काफी पीछे है. झारखंड में मुख्यमंत्री रघुबर दास के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार राज्य में सत्ता बरकरार रखने की उम्मीद कर रही है.

बिहार और हरियाणा चुनाव के नतीजे झारखंड में बिगाड़ सकते हैं खेल

2014 विधानसभा चुनाव में भाजपा ने जीती थीं 37 सीटें
भाजपा ने 2014 विधानसभा चुनाव में 37 सीटें जीती थी, वहीं उसके सहयोगी दल ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन (एजेएसयू) ने पांच सीटों पर जीत दर्ज की थी. राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को सरकार बनाने के लिए 81 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत हासिल करने के लिए 41 सीटों पर जीत हासिल करनी होगी.