रांची: झारखंड के खूंटी जिले में बीते साल हुए सामूहिक दुष्कर्म के एक मामले में खूंटी की जिला अदालत ने एक ईसाई पादरी और तीन अन्य लोगों को मंगलवार को दोषी करार दिया. खूंटी जिले के सरकारी वकील सुशील जायसवाल ने संवाददाताओं से कहा, “फादर अल्फांसो और तीन अन्य लोगों को जिला सत्र न्यायालय ने दोषी करार दिया है. सजा का ऐलान 15 मई को होगा.”

खूंटी जिले के अक्री में 19 जून, 2018 को पांच लड़कियों के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ था. पीड़ितों के बयान के आधार पर पुलिस ने फादर और तीन अन्य लोगों को गिरफ्तार किया था.

पांचों लड़कियां सरकारी योजनाओं को लेकर लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए नाटक में हिस्सा लेने अक्री गई थीं. इन लड़कियों का अपहरण कर इनके साथ दुष्कर्म किया गया था.