लोहरदगा: झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं मुख्य विपक्षी पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने उनके ऊपर परिवारवाद के लग रहे आरोपों का जवाब देते हुए बड़े तल्ख स्वर में कहा कि ‘आखिर शेर का बच्चा शेर ही तो होगा’. सोरेन ने भाजपा पर जवाबी हमला करते हुए कहा कि अब इस बात में उनका कोई दोष नहीं कि भाजपा के सबसे बड़े नेता के परिवार का कोई राजनीति में नहीं है.

शिबू सोरेन का बेटा होने के नाते झामुमो का कार्यकारी अध्यक्ष बनाये जाने पर परिवारवाद का आरोप लगाये जाने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए हेमंत सोरेन ने यह बात कही. हेमंत सोरेन ने शुक्रवार को लोहरदगा में कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं विधायक सुखदेव भगत से मुलाकात की और उनसे भाजपा के खिलाफ चलाए जा रहे आंदोलन और आगामी चुनाव में भाजपा को रोकने को लेकर विस्तृत बातचीत की.

पत्‍नी से अलग होंगे लालू के बेटे तेजप्रताप? कोर्ट में दी तलाक की अर्जी

हेमंत ने परिवारवाद का उनके ऊपर आरोप लगाने वालों पर हमला बोला और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लेते हुए कहा कि इस बात में उनका कोई दोष नहीं है कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के परिवार में कोई राजनीति में आने लायक नहीं है. उन्होंने कहा कि ‘आखिर शेर का बच्चा शेर ही तो होगा.’

प्रधानमंत्री पद के लिए 63 फीसदी लोगों की पसंद हैं नरेंद्र मोदी, सर्वे में दावा

हेमंत ने आरोप लगाया कि भाजपा के पास कोई नीति नहीं है। विकास सिर्फ होर्डिंग, टीवी चैनल और भाषण में ही नजर आता है. सुखदेव भगत ने कहा कि 2019 में भाजपा को रोकना सभी का मुख्य उद्देश्य है. इसी कड़ी में सब एक साथ हैं. उन्होंने कहा कि आज हर कोई सरकार से त्रस्त है.