रांची: झारखंड में लॉ यूनिवर्सिटी की एक छात्रा से 12 युवकों ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया है. रांची पुलिस ने छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में 12 युवकों को गिरफ्तार किया है. यह वाकया मंगलवार की शाम का है जब छात्रा अपने दोस्‍त के साथ स्‍कूटी से यूनिवर्सिटी लौट रही थी. यह छात्रा जनजातीय समुदाय से है. 9 युवकों ने लॉ यूनिवर्सिटी की छात्रा और उसके दोस्त के रोका. इसके बाद उसे को जबरन कार में बैठा लिया.

युवती के दोस्‍त के साथी को बंदूक की नोंक पर रोक लिया गया. अपहरण के बाद ये दरिंदे छात्रा को एक सुनसान जगह पर ले गए, जहां तीन और युवक आ गए. इन युवकों लॉ छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म किया और उसे वहीं पर छोड़ दिया.

पुलिस के मुताबिक, गैंगरेप की शिकार युवती की शिकायत के मिलने बाद तलाशी अभियान चलाया गया, जिसमें गुरुवार को सभी 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने कहा है कि पीड़ित के लिए न्याय सुनिश्चित करने के लिए त्वरित सुनवाई की मांग की जाएगी.

पुलिस ने बताया कि छात्रा मंगलवार शाम अपने दोस्त के साथ स्कूटी से यूनिवर्सिटी से लौट रही थी, जब उसे संग्रामपुर ईंट भट्ठा फैक्ट्री के पास कार व एक बाइक से यात्रा कर रहे युवकों ने रोका. 9 युवकों ने पीड़ित को उसके दोस्त के साथ रोका. पीड़िता को जबरन कार में बैठाया गया और उसकी साथी को बंदूक की नोंक पर रोका गया.

अपहरण के बाद उसे एक सुनसान जगह पर ले जाया गया, जहां तीन और युवक आ गए और छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने के बाद और उसे वहीं छोड़ दिया गया. रेप की शिकार छात्रा ने बुधवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. एक आरोपी का मोबाइल घटना स्थल पर मिला, जिसके आधार पर आरोपियों का पता चल सका और गुरुवार को सभी 12 को गिरफ्तार कर लिया गया.

पुलिस ने वारदात में उपयोग की गई कार व बाइक भी बरामद कर ली है. गिरफ्तार युवकों के पास से एक देसी पिस्तौल व कुछ जिंदा कारतूस बरामद किए गए हैं. सभी युवकों को जेल भेजा गया है. लॉ स्टूडेंट का मेडिकल टेस्ट कराया गया है.

पुलिस ने शुरुआत में सामूहिक दुष्कर्म को लेकर कुछ भी नहीं कहा. लेकिन बाद में युवकों की गिरफ्तारी के बाद सूचना का खुलासा हुआ. मामला एसटी एक्ट के तहत दर्ज किया गया है, क्योंकि लड़की जनजातीय समुदाय से है.