रांची: झारखंड मुक्ति मोर्चा ने पार्टी से टिकट पाने के इच्छुक लोगों को कहा है कि उन्हें अपनी अर्जी के साथ ही पार्टी फंड में 51 हजार रुपये का ‘शगुन’ जमा कराना होगा. पार्टी नेता के मुताबिक, प्रारंभ में यह सहयोग राशि पांच हजार रुपये थी. इसके बाद में वह 10 हजर रुपये, फिर 15 और फिर 21 हजार रुपये हुई.Also Read - Jharkhand Panchayat Chunav Kab Honge: झारखंड में पंचायत चुनाव की तैयारियां तेज, जानें कब होंगे

Also Read - UP Election 2022: BSP के 'जाटव' वोटों में सेंध की तैयारी में BJP, मायावती के खिलाफ प्रत्याशी के नाम पर मुहर

झारखंड विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान, अब तक साफ नहीं हुई गठबंधनों की स्थिति Also Read - PM मोदी पांच नवंबर को केदारनाथ जाएंगे, 250 करोड़ रुपए की केदारपुरी परियोजना शुरू करेंगे

झामुमो के वरिष्ठ नेता विनोद पांडेय ने शुक्रवार को यहां कहा कि उनकी पार्टी कोई कॉरपोरेट पार्टी नहीं है. उसे चुनाव लड़ने के लिए धन की आवश्यकता होगी और इसी को ध्यान में रखते हुए पार्टी टिकट के इच्छुक लोगों से सहयोग राशि के रूप में पार्टी फंड में 51 हजार रुपये जमा कराने को कह रही है. पांडेय ने कहा कि झामुमो का यह फैसला नया नहीं है. पिछले चुनावों में भी झामुमो ने टिकटार्थियों से सहयोग राशि ली थी.

झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख बाबू लाल मरांडी का ऐलान, पार्टी अकेले लड़ेगी विधानसभा चुनाव

चुनाव दर चुनाव बढ़ायी गयी राशि

उन्होंने कहा कि चुनाव दर चुनाव यह राशि बढ़ायी गयी है. उन्होंने कहा कि प्रारंभ में यह सहयोग राशि पांच हजार रुपये थी. बाद में वह 10 हजर रुपये, फिर 15 और फिर 21 हजार रुपये हुई. उन्होंने कहा कि झामुमो के उम्मीदवारों की पहली सूची शीघ्र जारी की जायेगी. (इनपुट एजेंसी)

BJP झारखंड विधानसभा चुनाव में जीतेगी 65 सीटें, दास होंगे मुख्यमंत्री का चेहरा: माथुर