नई दिल्ली: झारखंड विधानसभा के लिए पांच चरणों में हुए चुनाव के अंतिम चरण का मतदान शुक्रवार को संपन्न होने के बाद आए विभिन्न एग्जिट पोल्स के नतीजों में प्रदेश में झारखंड मुक्ति मोर्चा(झामुमो), कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) गठबंधन की सरकार बनने की संभावना जाहिर की गई है. कुछ एक्जिट पोल्स ने दावा किया है कि झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन को 81 सदस्यीय झारखंड विधानसभा में 38 से 50 सीटें मिल सकती हैं जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की झोली में करीब 22-32 सीटें आ सकती हैं.

एक अन्य एग्जिट पोल में झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन को 37-49 सीटें दी गई हैं जबकि भाजपा को 25-30 सीटें. जबकि झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन को 37-49 सीटें जबकि भाजपा को 25-30 सीटें मिलने की संभावना जाहिर की गई है. सभी एग्जिट पोल में बाबूलाल मरांडी की अगुवाई में झारखंड विकास मोर्चा और सुरेश महतो की अगुवाई में ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन (आजसू) को बढ़त मिलते दिखाया गया है.

झारखंड विधानसभा चुनाव में भाजपा ने नागरिकता संशोधन विधेयक कानून (सीएए) समेत राष्ट्रीय मुद्दों को प्रमुखता से उभारा था. वहीं, झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन ने स्थानीय मुद्दों और आर्थिक मंदी के मुद्दे को प्रमुखता दी थी.

(इनपुट-आईएएनएस)