रांची: झारखंड लौटे प्रवासी श्रमिकों के कारण कोरोना वायरस का संक्रमण और तेजी से फैलने लगा है. शनिवार को संक्रमण के 27 नये मामले सामने आए जिससे संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर अब 350 तक पहुंच गयी है. Also Read - Viral Video: झारखंड के ये भाई-बहन रातोंरात बने स्टार, डांस वीडियो वायरल, लाखों व्यूज, देखें...

कोडरमा में 21 मई को एक प्रवासी श्रमिक की मौत हो गई, जिसके शनिवार को कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई. राज्य में इस बीमारी से मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर चार हो गयी. Also Read - झारखंड में ‘अनलॉक-1’: सख्‍त नियमों के साथ मिलीं ये छूट, इन बातों का रखना होगा ध्‍यान

स्वास्थ्य विभाग की आज जारी रिपोर्ट के अनुसार झारखंड में शनिवार को कोरोना वायरस से संक्रमितों के 27 नए मामले आए जिन्हें मिलाकर कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 350 हो गई है.
कल देर शाम तक राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 323 बतायी गयी थी. Also Read - 12 साल की बच्‍ची ने बचत के पैसों से प्रवासी मजदूरों को फ्लाइट से झारखंड भेजने का किया इंतजाम

शनिवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार राज्य में 350 संक्रमितों में से 179 सिर्फ प्रवासी मजदूर हैं जो देश के विभिन्न भागों से राज्य में वापस अपने घरों को लौटे हैं. आज संक्रमित पाये गये लोगों में 21 प्रवासी मजदूर थे.

राज्य के 350 संक्रमितों में से 141 अब तक ठीक होकर अपने घरों को लौट चुके हैं जबकि चार की मौत हो चुकी है. इसके अलावा 205 अन्य संक्रमितों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में जारी है.
इस बीच मुंबई से कोडरमा आने के बाद 21 मई को एक प्रवासी युवक की मौत हो गई थी जिसमें आज कोरोना वायरस से संक्रमण की पुष्टि हुई.

इससे पूर्व राज्य में कोरोना वायरस से मौत 21 अप्रैल को रांची के हिंदपीढ़ी की एक महिला की हुई थी जो मौत के समय संक्रमणमुक्त हो चुकी थी. कोडरमा के सहायक चिकित्साधिकारी डा. एबी प्रसाद ने आज इसकी पुष्टि की. उन्होंने बताया कि मुंबई से लौटने के बाद इस 39 वर्षीय युवक का स्वैब जांच के लिए लिया गया था तथा उसे सरकारी पृथक-वास केन्द्र में रखा गया था, जहां उसकी जांच रिपोर्ट आने के पहले ही 21 मई को निधन हो गया.

उन्होंने बताया कि युवक की जांच रिपोर्ट आज आयी और वह पॉजिटिव पायी गयी है. आज की स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार राजधानी रांची में अब तक कुल 114 संक्रमित पाये गये हैं जिनमें से दो की मौत हो चुकी है जबकि 95 ठीक हो चुके हैं.