Jharkhand CoronaVirus Lockdown: वैसे तो कोरोना वायरस की दूसरी लहर अब कमजोर पड़ गई है लेकिन झारखंड में कोरोना वायरस की तीसरी लहर अगले 6 से 8 सप्‍ताह के अंदर आ सकती है, ऐसा विशेषज्ञों ने अनुमान जताया है. विशेषज्ञों की इस चिंता को लेकर झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि कोरोना की तीसरी लहर के लिए हमें तैयार रहना चाहिए. उन्होंने कहा कि राज्य में अनलॉक के तहत लॉकडाउन में छूट तो दी गई है, लेकिन अभी हमें कोरोना को लेकर लॉकडाउन की गाइडलाइन का सख्‍ती से पालन करना होगा. कोविड 19 से बचाव के लिए वैक्‍सीन लें और दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें.Also Read - Jharkhand Me Kab Khulenge Schools: झारखंड में Unlock-6 का जल्द होगा ऐलान, स्कूलों को खोलने पर हो सकता है फैसला

सीएम हेमंत सोरेन ने ट्विटर पर लिखा है कि साथियों, आज भले अपने राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या पूरे देश में सबसे कम है, भले ही हमारी रिकवरी 98 % से ज्‍यादा है, पर खतरा अभी टला नहीं है. एक्स्पर्ट्स के अनुसार 6-8 सप्ताह में तीसरी लहर हमें परेशान कर सकती है. राज्य सरकार ने तीसरे लहर से लड़ाई हेतु तैयारियाँ पुख्‍ता कर ली है पर आप सब के सहयोग के बिना यह संभव नहीं होगा. Also Read - Ajab Pyar Ki Gazab Kahani: शादी के 17 दिनों बाद ही दूल्हे ने बनाया एग्रीमेंट, प्रेमी को सौंप दी अपनी दुल्हन, जानकर हो जाएंगे हैरान

लॉकडाउन में भले ही छूट दी गयी है पर आप कोरोना के गाइड्लायन का पालन पूरी सख़्ती एवं मुस्तैदी से खुद भी करें और दूसरों को भी समझाएँ. वैक्सीन की उपलब्धता के अनुसार हम तेज़ी से वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया पर भी कार्य कर रहे हैं. वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है अतः आप इसे पूरी तरह से निश्चिंत हो कर लगाएँ. Also Read - Patni ko Premi Ke Pas Bheja: शादी के 17 दिन बाद ही पत्नी को किया प्रेमी के हवाले, एग्रीमेंट पेपर बना और फिर...

बता दें कि मुख्‍यमंत्री ने ये भी कहा है कि राज्‍य में कोरोना के संक्रमित मरीजों की संख्‍या दूसरी लहर की शुरुआत की स्थि‍ति के समय पहुंच गई है और दूसरी लहर में संक्रमित मरीजों की संख्‍या में बढ़ोतरी के बाद सरकार ने लॉकडाउन लागू किया था जिसके बाद संक्रमण दर में कमी आई है और इसके बाद सरकार ने लाॅकडाउन में धीरे-धीरे छूट दी है.