रांची: झारखंड सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस के मद्देनजर गाइडलाइंस में बदलाव कर दिया है. अब इन नियमों का पालन नहीं करने वालों को 2 साल की जेल और 1 लाख तक का जुर्माना लगाया जाएगा. झारखंड कैबिनेट द्वारा बुधवार को संक्रामक रोग अध्यादेश 2000 पारित किया गया. इसके तहत अगर आपने गाइडलाइंस का पालन नहीं किया तो आपके खिलाफ अब बेहद सख्त कार्रवाई की जाएगी.Also Read - Haryana में छूट के साथ 10 फरवरी तक बढ़ाई गईं कोरोना पाबंदियां, अब इस समय तक खुल सकेंगी दुकानें

अगर आप मास्क पहनकर घर के बाहर नहीं निकलते तो आपको 1 लाख का जुर्माना और 2 साल तक की जेल हो सकती है. सरकार द्वारा ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि झारखंड में कोरोना के आंकड़ो में तेजी देखने को मिल रही है. ऐसे में सरकारी अस्पतालों में अब जगह की कमी पड़ने लगी है. हालांकि कुछ लोग सरकार के इस फैसले का विरोध कर रहे हैं लेकिन सुरक्षा के मद्देनजर यह फैसला बेहद कारगर साबित हो सकता है. Also Read - Maharashtra News: महाराष्ट्र में कब खुलेंगे पर्यटन स्थल? मंत्री आदित्य ठाकरे ने दिया बड़ा अपडेट

Also Read - अच्छी खबर! दिल्ली में बीते दो हफ्तों में कोविड के एक्टिव मरीजों की संख्या में 50% से ज्यादा की कमी, बीते 24 घंटे में 7498 नए केस

लोगों की मानें तो सरकार द्वारा कोरोना आइसोलेशन सेंटर रिहायशी इलाकों में बनाया जा रहा है. इस कारण उनके उपर भी खतरा मंडरा रहा है. लोगों की सरकार से अब यह मांग है कि आइसोलेशन वॉर्ड को स्टेशन रोड से हटाकर कहीं और बनाया जाए. क्योंकि यह उनके जीवन पर प्रभाव डाल सकता है.