Jharkhand Lockdown: एक तरफ कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की दस्तक ने लोगों की, सरकारों की चिंता को बढ़ा दिया है. वहीं झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन के आधिकारिक हैंडल से लॉकडाउन का एक फर्जी ट्वीट वायरल हो रहा है, जिसके बाद राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से राज्य में लॉकडाउन की घोषणा का एक फर्जी स्क्रीनशॉट साझा किए जाने के बाद पुलिस से मामला दर्ज करने को कहा है.Also Read - Jharkhand News: लोहरदगा में आदिवासी नाबालिग लड़की से गैंगरेप के मामले में तीन गिरफ्तार

झारखंड मुख्यमंत्री कार्यालय ने अपने ट्वीटर हैंडल से एक ट्वीट कर कहा कि राज्य सरकार द्वारा राज्य में लॉकडाउन के संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया गया है. माननीय सीएम @HemantSorenJMM के ट्विटर अकाउंट का यह स्क्रीनशॉट एक फर्जी पोस्ट है. यह दोहराया जाता है कि राज्य सरकार द्वारा कोविड-19 लॉकडाउन पर ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया गया है. Also Read - बाप रे बाप! ये क्या बोल गए विधायक जी...Kangana Ranaut के गाल से भी चिकनी सड़कें बनाएंगे, क्या कहेंगी कंगना?

वायरल हो रहे ट्वीट के फर्जी आदेश में लिखा है- ‘मेरे झारखंड वासियों और सभी को मालूम ही होगा कि घातक वैरिएंट आया है, जिसका नाम ओमिक्रॉन है. आप सभी की सुरक्षा के लिए झारखंड मे लॉकडाउन लगने वाला है. 6 दिसंबर 2021 से 1 जनवरी 2022 तक सभी स्कूल, कॉलेज, इंस्टीट्यूट, आंगनवाड़ी, धर्म स्थान, पार्क सब बंद रहेंगे और सारे एग्जाम कैंसिल अगर कहीं जरूरी काम से जाना है तो ई पास लगेगा सुरक्षित रहें. घर में रहें.’ हालांकि राज्य सरकार ने साफ कर दिया है कि ये स्क्रीनशॉट पूरी तरह से फर्जी है. Also Read - Jharkhand Lockdown: कोरोना का तेजी से बढ़ता आंकड़ा, 15 जनवरी से हेमंत सरकार लगाएगी लॉकडाउन?

झारखंड मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर झारखंड पुलिस को एफआईआर दर्ज करने, बदमाशों की पहचान करने और कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से नकली स्क्रीनशॉट के अनुसार कहा गया कि सभी स्कूल, कॉलेज, संस्थान और धार्मिक स्थल स्पष्ट रूप से 6 दिसंबर से 1 जनवरी तक ओमिक्रॉन संक्रमण को देखते हुए बंद रहेंगे. बता दें कि राज्य सरकार द्वारा कोविड -19 लॉकडाउन पर ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया गया है.’