Jharkhand Lockdown Latest Update: झारखंड में कोरोना की लगातार बिगड़ती स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बुधवार को स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह एवं राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति पर आपदा प्रबन्धन प्राधिकार की बैठक में बड़ा निर्णय लिया और राज्य में लॉकडाउन को छह मई तक के लिए बढ़ा दिया है. पहले से चल रहे लॉकडाउन के नियमों में भी बदलाव करते हुए पाबंदियां और सख्त कर दी गई हैं. बता दें कि इससे पहले 22 से 29 अप्रैल तक एक सप्‍ताह का संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया गया था.Also Read - Covid-19 Lockdown Update: बड़ी बात-ब्रिटेन में कोरोना हुआ कमजोर, अब नो वर्क फ्रॉम होम, नो फेसमास्क, जानिए

बुधवार को आपदा प्रबंधन प्राधिकार के सदस्यों के साथ उच्च स्तरीय बैठक के बाद सीएम ने यह निर्णय लिया कि लॉकडाउन (स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह) को एक सप्ताह के लिए और सख्ती के साथ बढ़ाया जाए. लोग सुबह छह बजे से दोपहर तीन बजे तक ही घरों से बाहर निकल सकते हैं. उन्हें घरों से निकलने की वाजिब वजह बतानी होगी. दोपहर तीन बजे से शाम छह बजे तक सिर्फ मेडिकल संबंधित, शादी समारोह संबंधित, अंतिम संस्कार संबंधित को ही अनुमति दी गई है. Also Read - Lockdown In China: ओमिक्रॉन के डर से चीन ने लगाया दुनिया का सबसे कठोर लॉकडाउन, जानकर हो जाएंगे हैरान

छह मई तक झारखंड में लॉकडाउन, जानिए क्‍या खुला रहेगा क्‍या रहेगा बंद… Also Read - Jharkhand Lockdown: कोरोना का तेजी से बढ़ता आंकड़ा, 15 जनवरी से हेमंत सरकार लगाएगी लॉकडाउन?

दवा, स्वास्थ्य संबंधित व स्वास्थ्य उपकरण संबंधित दुकानें खुलेंगी.
किराना व जरूरत की वस्तुएं बेचने वाली दुकानें प्रत्येक दिन दोपहर दो बजे तक ही खुलेंगी.
पेट्रोल पंप, एलपीजी, सीएनजी आउटलेट खुलेंगी.
ग्रासरी की दुकानें भी प्रत्येक दिन दोपहर दो बजे तक ही खुलेंगी. होम डिलिवरी की सुविधा दी जा सकती है.
थोक, खुदरा दुकानें, फूटपाथ की सब्जी-फल की दुकानें, दूध व दूध की सामग्री की दुकानें, मिठाइयों की दुकानें, पशु चारा की दुकानें भी दोपहर दो बजे तक ही खुलेंगी.
होटल व रेस्टोरेंट में बैठकर खाना प्रतिबंधित है, सिर्फ होम डिलिवरी को ही अनुमति दी गई है.
राष्ट्रीय राजमार्ग पर ढाबा खोलने की अनुमति.
दुकानों के लिए सामान ढोने वाले वाहनों को अनुमति, वाहनों से सामान को उतार सकते हैं और चढ़ा भी सकते हैं.

कृषि कार्य चलते रहेंगे. इससे संबंधित दुकानें भी दोपहर दो बजे तक खुल सकेंगी.
औद्योगिक व खनन संबंधित कार्य चलते रहेंगे.
निर्माण कार्य व मनरेगा संबंधित कार्य चलेंगे. इससे संबंधित दुकानें भी दोपहर दो बजे तक खुलेंगी.
ऑनलाइन मार्केटिंग संबंधित कार्य भी दोपहर दो बजे तक ही चलेंगे.
पशु संबंधित दुकानें, शराब की दुकानें, वाहन मरम्मत की दुकानें भी दोपहर दो बजे तक ही खुलेंगी.
ठंडा घर व गोदाम खुले रहेंगे.
भारत सरकार के कार्यालय भी अधिकतम 50 फीसद उपस्थिति के साथ दोपहर दो बजे तक ही खुलेंगे.
बैंक, एटीएम, वित्तीय गतिविधियां, बीमा कंपनियां, सेबी आदि भी दोपहर दो बजे तक ही खुलेंगी.
राज्य सरकार के कार्यालय अधिकतम 50 फीसद उपस्थिति होगी. ये कार्यालय भी दोपहर दो बजे तक चलेंगे.

अन्य कार्यालयों के कर्मी-पदाधिकारी वर्क फ्रोम होम में रहेंगे.
प्रिंट व इलेक्ट्रानिक मीडिया, कुरियर सेवा, डाक व दूरसंचार सेवाएं, सुरक्षा सेवाएं खुली रहेंगी.

सभी धार्मिक स्थल खुले रहेंगे, लेकिन श्रद्धालुओं का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा.
पांच या इससे अधिक व्यक्ति एक स्थान पर नहीं जुटेंगे.

शादी समारोह में अधिकतम 50 व्यक्ति को जाने की अनुमति व अंतिम संस्कार में अधिकतम 30 व्यक्ति ही जा सकेंगे.
सभी तरह के जुलूस चाहे धार्मिक हो या फिर शादी संबंधित हो, प्रतिबंधित रहेगा.
सभी शैक्षणिक संस्थान जैसे स्कूल, कॉलेज, आइटीआइ, स्किल डेवलपमेंट सेंटर, कोचिंग संस्थान, प्रशिक्षण संस्थान बंद रहेगा। सिर्फ ऑनलाइन क्लास ही चलेंगे.
राज्य सरकार के अधीन सभी तरह की परीक्षाएं अगले आदेश तक प्रतिबंधित हैं.
सभी मेला व प्रदर्शनी पर रोक है.
सिनेमा हॉल, मल्टीप्लेक्स, थिएटर, सभा हॉल बंद रहेंगे.
सभी स्टेडियम, जिम, स्वीमिंग पुल, पार्क बंद रहेंगे.
बैंक्वेट हॉल का उपयोग सिर्फ शादी व अंतिम संस्कार संबंधित कार्य में ही होगा.
पब्लिक ट्रांसपोर्ट सेवा को अनुमति दी गई है.
बिना मास्क या फेसकवर के कोई भी व्यक्ति सरकारी दफ्तर, रेलवे स्अेशन, एयरपोर्ट, बस, टैक्सी, ऑटो रिक्शा या किसी दुकान में नहीं जा सकेगा.