रांची: देश में आए दिन ऐसी खबरें सामने आती हैं जहां अंधविश्वास लोगों की मौत की वजह बन जाती है. ऐसी ही एक खबर झारखंड से सामने आई है. यहां कई दिनों से गांव में कुछ पशु मर रहे थे. ऐसे में एक पुजारी ने बताया कि कुछ लोग डायन के वश में हैं. ऐसे में जिन लोगों को डायन के वश में बताया गया उनकी हत्या कर दी गई. इस मामले में 5 लोगों की हत्या की खबर सामने आई है, जिसमें एक 5 साल का बच्चा भी शामिल है. टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के मुताबिक पिछले 4 महीने में बुरुहातू-अमतोली पहाड़ में डायन के शक में 8 लोगों की हत्या की जा चुकी. Also Read - मौसी को भगाकर ले गया भांजा, दोनों ने मंदिर में रचा ली शादी, जैसे ही घरवालों को पता चला, फिर..

बता दें कि पशुओं के लगातार हो रही मौत के बाद लोग वैद्य के पास गए लेकिन जब वैद्य की दवाईयों से भी समाधान नहीं निकला तो लोग पुजारी के पास पहुंचे. इसके बाद 23 फरवरी के दिन ग्राम सभा ने बैठक का आयोजन किया और मथुरा टोपनों ने कुछ नाम बताए. अगले दिन एक बुजुर्ग शख्स जोसफिना टोपनों नाम की एक महिला का शव उसके घर में देखा गया. वहीं घर के अंदर पति निकोदिम और तीन अन्य शव मिले. Also Read - Corona Spike in Jharkhand: प्रदेश में बढ़ता कोरोना का कहर, 24 घंटे में 873 नए मामले सात की मौत

बता दें कि इन शवों में निकोदिन के छोटे के बेटे का भी शव था, जोकि मात्र 5 वर्ष का है. इस बच्चे के शव के पास एक खिलौन भी पड़ा हुआ था. जानकारी के मुताबिक पुजारी मथुरा द्वारा ही मृतकों के नाम सुझाए गए थे. जिसके कुछ ही घंटों बाद इनकी हत्या कर दी गई. इस मामले में एक आरोपी को फिलहाल गिरफ्तार कर लिया गया है. उसका कहना है कि पूरी घटना को मात्र तीन मिनट में अंजाम दिया गया था. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है. Also Read - Jharkhand: मंत्रीजी को बदलवाना पड़ा फेफड़ा, इस विधायकजी की बीमारी थोड़ी हटके है, जानिए