रांची: झारखंड सरकार ने केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए लॉक डाउन से संबंधित दिशा निर्देशों के तहत राज्य के लिये भी नए दिशा निर्देश जारी किए हैं जिनके तहत राज्य में अनलॉक-1 अथवा लॉकडाउन-पांच में किसी विवाह कार्यक्रम में पचास से अधिक एवं किसी के अंतिम संस्कार में बीस से अधिक लोग एकत्रित नहीं हो सकेंगे. Also Read - कोरोना के नए प्रकार के कारण वैश्विक स्तर पर संक्रमण के बढ़े मामले, जानिए इसके पीछे की वजह

आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा कुछ मामलों में राज्य सरकार को निर्णय लेने का निर्देश दिया गया है जिसके आलोक में राज्य सरकार द्वारा निर्णय लिया गया है की पूर्व की भांति सभी धार्मिक संस्थान बंद रहेंगे. Also Read - दिल्ली में कोरोना के 2,505 नए मामले सामने आए, 10 लाख की आबादी पर किए जा रहे 32,650 टेस्ट

राज्य सरकार द्वारा जिन गतिविधियों को कंटेनमेंट जोन के बाहर अनुमति प्रदान की गई है, उनमें आवश्यक गतिविधियों को छोड़कर 9 बजे शाम से सुबह 5.00 बजे के बीच व्यक्तियों का आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा, सार्वजनिक स्थानों, कार्यस्थलों और परिवहन के दौरान फेस कवर या मास्क पहनना अनिवार्य है. Also Read - चीन की बढ़ेंगी मुश्किलें! कहां से निकला कोरोना वायरस? जांच के लिए अगले हफ्ते चाइना जाएगी डब्ल्यूएचओ की टीम

इनमें कहा गया है कि सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्य और अन्य कार्यों के लिए बड़ी संख्या में लोगों का जमा होना निषिद्ध बना रहेगा. दिशानिर्देशों के अनुसार निजी वाहनों व टैक्सी द्वारा राज्य में व्यक्तियों के प्रवेश के लिए ई प्रवेश पास की आवश्यकता बनी रहेगी.

राज्य में सार्वजनिक स्थानों पर शराब, पान, गुटखा, तम्बाकू और तम्बाकू उत्पादों का सेवन वर्जित है. ऐसे ही अन्य दिशानिर्देश जारी किये गए हैं जो 04.06.2020 से 30.06.2020 तक की अवधि के लिए लागू रहेंगे.