Liquor Home Delivery: लॉकडाउन के चौथे चरण में शराब की होम डिलीवरी शुरू हो गई है. ऑनलाइन फूड डिलीवरी ऐप स्विगी ने ये शुरुआत कर दी है. Also Read - 12 साल की बच्‍ची ने बचत के पैसों से प्रवासी मजदूरों को फ्लाइट से झारखंड भेजने का किया इंतजाम

स्विगी ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने झारखंड की राजधानी रांची में अल्कोहल (शराब) घरों पर आपूर्ति करने का काम शुरू कर दिया है. कंपनी दूसरे राज्यों में ‘ऑनलाइन आर्डर’ पूरा करने और उसकी ‘होम डिलिवरी’ के लिये संबंधित राज्य सरकारों से भी बातचीत कर रही है. Also Read - इन तीन राज्‍यों में जाने वाले ट्रेनों के यात्री ध्‍यान दें, स्‍टॉपेज में किए गए हैं बदलाव

स्विगी ने एक बयान में कहा कि रांची में घरों तक शराब की आपूर्ति का काम शुरू हो गया है, राज्य के अन्य शहरों में एक सप्ताह के भीतर यह शुरू हो जाएगा. Also Read - Corornavirus in Jharkhand Update: 24 घंटे में कोविड-19 के 42 नए मामले, 563 हुई संक्रमितों की संख्या

बयान के अनुसार कंपनी दूसरे राज्यों में ‘ऑनलाइन आर्डर’ पूरा करने और उसकी ‘होम डिलिवरी’ के लिये संबंधित राज्य सरकारों से बातचीत कर रही है.

स्विगी ने कानून के अनुसार अल्कोहल की सुरक्षित आपूर्ति सुनिश्चित करने को लेकर कदम उठाये हैं. इसमें अनिवार्य रूप से उम्र और उपयोगकर्ता के सत्यापन के उपाय शामिल हैं.

स्विगी के उपाध्यक्ष (उत्पाद) अनुज राठी ने कहा, ‘‘सुरक्षित और जवाबदेह तरीके से अल्कोहल की घरों तक आपूर्ति के जरिये हम खुदरा दुकानदारों के लिये अतिरिक्त कारोबार सृजित कर सकते हैं. साथ ही शराब की दुकानों पर भीड़-भाड़ की समस्या भी दूर होगा और समाजिक दूरी को बढ़ावा मिलेगा.’’

उन्होंने कहा कि कंपनी के पास प्रौद्योगिकी और ढांचागत सुविधा है जिससे वह छोटे-छोटे गली-मोहल्ले भी सामानों की आपूर्ति कर सकती है. कंपनी किराना सामानों और कोविड-19 राहत उपायों का दायर बढ़ाने जैसी पहल के लिये स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर काम कर रही है.

बयान के अनुसार स्वीगी ने राज्य सरकारों के दिशानिर्देश के अनुसार लाइसेंस और अन्य जरूरी दस्तावाजों का सत्यापन करने के बाद अधिकृत खुदरा दुकानदारों के साथ गठजोड़ किया है.
(एजेंसी से इनपुट)