रांची. झारखंड की सभी 14 लोकसभा सीटों के परिणाम आधिकारिक तौर पर गुरुवार की देर रात घोषित किए गए. प्रदेश की 14 लोकसभा सीटों में से 12 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी और उसकी सहयोगी आजसू के उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है. झारखंड में लोकसभा चुनाव के नतीजों से कई चौंकाने वाले परिणाम भी सामने आए. इनमें ‘दिशोम गुरु’ कहे जाने वाले कद्दावर झामुमो नेता और पूर्व सीएम शिबू सोरेन की हार, कांग्रेस के दिग्गज नेता सुबोधकांत सहाय की पराजय के अलावा मोदी-लहर पर सवार होने के बावजूद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष को शिकस्त मिलना शामिल है.

मुख्य विपक्षी झारखंड मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष शिबू सोरेन उर्फ गुरु जी दुमका की अपनी परंपरागत सीट से और उनके महागठबंधन के सहयोगी झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी कोडरमा सीट से और रांची से कांग्रेस उम्मीदवार पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय बुरी तरह पराजित हुए हैं. झारखंड के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल खियांग्ते ने बताया कि राज्य की सभी 14 लोकसभा सीटों के परिणाम घोषित कर दिए गए हैं. सभी चौदह सीटों में से 11 पर भाजपा के उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है. गिरिडीह की एक सीट पर भाजपा की सहयोगी आजसू ने जीत दर्ज की है. जबकि सिंहभूम की सीट कांग्रेस ने भाजपा से छीन ली है और राजमहल की सीट झारखंड मुक्ति मोर्चा ने बरकरार रखी है.

पीएम मोदी ने बनाया रिकॉर्ड, प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में लौटने वाले देश के तीसरे प्रधानमंत्री बने

पीएम मोदी ने बनाया रिकॉर्ड, प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में लौटने वाले देश के तीसरे प्रधानमंत्री बने

झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष एवं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी भाजपा की अपनी निकटतम प्रतिद्वंदी अन्नपूर्णा देवी से 455600 मतों के भारी अंतर से हार गए हैं. इसी प्रकार दुमका से झारखंड मुक्ति मोर्चा के मुखिया उर्फ गुरू जी शिबू सोरेन भाजपा के सुनील सोरेन से 47590 मतों से हार गए हैं. राज्य की मुख्य विपक्षी झामुमो की यह हार बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि वह पार्टी के संस्थापक रहे हैं. भाजपा के रांची से उम्मीदवार संजय सेठ ने कांग्रेस के पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय को 283026 मतों के भारी अंतर से पराजित कर दिया है.

पलामू से भाजपा के निवर्तमान सांसद विष्णु दयाल राम ने राष्ट्रीय जनता दल के घूरन राम को 477606 मतों के भारी अंतर से पराजित कर दिया. जमशेदपुर से भाजपा के विद्युतवरण महतो ने झारखंड मुक्ति मोर्चा के चंपई सोरेन से को 302090 मतों के भारी अंतर से पराजित किया. हजारीबाग से केन्द्रीय मंत्री भाजपा के जयंत सिन्हा ने कांग्रेस के गोपाल प्रसाद साहू को 479548 मतों के भारी अंतर से पराजित किया. गोड्डा लोकसभा सीट से भाजपा के निशिकांत दूबे ने झारखंड विकास मोर्चा के प्रदीप यादव को 184227 मतों के भारी अंतर से पराजित कर सीट अपने कब्जे में रखी.

Lok Sabha Election 2019 Results: ‘प्रचंड मोदी लहर’ पर सवार भाजपा बढ़ रही 300 के पार

गिरिडीह से भाजपा समर्थित आल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन के नेता झारखंड के मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी ने झामुमो के जगन्नाथ महतो को 248347 मतों के भारी अंतर से पराजित किया. दुमका से आश्चर्यजनक रूप से भाजपा के सुनील सोरेन ने महागठबंधन के मुख्य सदस्य झामुमो के प्रमुख शिबू सोरेन उर्फ गुरू जी को पराजित कर इतिहास रच दिया. धनबाद से भाजपा के निवर्तमान सांसद पशुपतिनाथ सिंह ने कांग्रेस के बिहार से आए उम्मीदवार कीर्ति आजाद को 486194 मतों से बुरी तरह पराजित किया. कीर्ति पिछली लोकसभा चुनावों में बिहार से भाजपा के सांसद थे.

चतरा से भाजपा के सुनील कुमार सिंह ने कांग्रेस के उम्मीदवार विधायक मनोज कुमार यादव को 377871 मतों के भारी अंतर से पराजित किया. राजमहल (आदिवासी सुरक्षित सीट) पर भाजपा के हेमलाल मुर्मू झामुमो के निवर्तमान सांसद विजय हंसदा से 99195 मतों से लगातार दूसरी बार पराजित हो गए और इन चुनावों में यही एक मात्र सीट झामुमो जीत सकी है. लोहरदगा में केन्द्रीय आदिवासी कल्याण राज्य मंत्री सुदर्शन भगत ने कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत को 10363 मतों से पराजित किया. वह सुखदेव भगत से मतगणना के दौरान लंबे समय तक पीछे चल रहे थे.

कर्नाटक में भाजपा की बड़ी जीत, सत्ताधारी कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन को झटका

दूसरी तरफ खूंटी से भाजपा के उम्मीदवार पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने मतगणना के अंतिम कुछ चरणों में कांग्रेस के कालीचरण मुंडा को मात्र 1445 मतों के अंतर से पराजित किया. सिंहभूम से कांग्रेस की गीता कोड़ा ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं निवर्तमान सांसद लक्ष्मण गिलुआ को 72155 मतों से पराजित कर भाजपा को आश्चर्यचकित कर दिया.

(इनपुट – एजेंसी)