पाकुड़ : झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने बीजेपी की वर्तमान मोदी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा की नरेंद्र मोदी सरकार ने संवैधानिक संस्थाओं का गलत इस्तेमाल किया है. उन्होंने कहा केंद्र सरकार की नीतियों का मकसद सिर्फ कॉरपोरेट घरानों को फायदा पहुंचाना है. 2019 के लोकसभा चुनाव में इस सरकार की हार तय है. मरांडी के मुताबिक नरेंद्र मोदी और अमित शाह के चंगुल से देश को बचाने के लिए विपक्षी पार्टियां एकजुट हुई हैं.Also Read - UP: BJP समर्थित बागी सपा विधायक नितिन अग्रवाल बड़े अंतर से यूपी विधानसभा के उपाध्यक्ष चुने गए, CM योगी ने SP पर हमला किया

मोदी और शाह के चंगुल से देश को बचाने के लिए विपक्ष एकजुट
मरांडी ने प्रेस कांफ्रेंस के जरिए केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा उन्होंने कहा पीएम मोदी की अगुवाई वाली एनडीए सरकार के सत्ता में आने के बाद से देश में संवैधानिक संस्थाओं का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है. देश को प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के चंगुल से छुड़ाना वक्त की मांग है. झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि यही वजह है कि विपक्षी पार्टियां देशहित में मिलकर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही हैं और मिलकर लड़ी जाने वाली इस लड़ाई में 2019 के आम चुनावों में मोदी की अगुवाई वाली सरकार को हार का सामना करना होगा. Also Read - बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने कहा, मोदीजी, 15 दिन के लिए जम्मू-कश्मीर बिहारियों को सौंप दीजिए, फिर देखिए

मोदी सरकार कॉरपोरेट घरानों की हितैषी
झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मरांडी ने आरोप लगाया कि सरकार की नीतियों का मकसद कॉरपोरेट घरानों को फायदा पहुंचाना है. उन्होंने दावा किया कि झारखंड की भाजपा सरकार ने औद्योगिक घरानों के फायदे के लिए गरीब किसानों और निजी जमीन मालिकों की जमीनें जबरन हथिया कर सालों पुराने छोटानागपुर एवं संथाल परगना काश्तकारी कानून में संशोधन की कोशिशें की हैं. मरांडी ने मोदी सरकार के चार साल के शासनकाल को फ्लॉप करार देते हुए कहा कि जनता को अब समझ आ गया है कि इस सरकार में देश को कितना नुकसान हुआ है.
(इनपुट एजेंसी) Also Read - सुना है कि बीजेपी अपने 150 MLA के टिकट काटने जा रही... हमने 300 सीटों को पार कर लिया: अखिलेश यादव