Jharkhand News: एक लड़की की जिद की वजह से रेलवे ने एकमात्र सवारी को लिए राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन को चलाने की अनुमति दी. लड़की बीएचयू की छात्रा है जो अपने घर आने के लिए पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेलवे स्टेशन से रांची के लिए नई दिल्ली-रांची स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस में चढ़ी थी. रास्ते में छात्रा ने जिद ठान ली कि वह ट्रेन से ही अपने घर जाएगी, उसकी जिद रेलवे ने पूरी की. Also Read - IRCTC/Indian Railways: 20 जोड़ी क्लोन ट्रेनों में कैसे होगी टिकटों की बुकिंग? सफर के लिए क्या हैं गाइडलाइंस- जानें सबकुछ

दरअसल, झारखंड में तीन दिन से टाना भगत आंदोलन कर रहे हैं, इस कारण कई ट्रेनें बीच रास्ते में ही फंसी हैं. डाल्टरगंज में फंसी राजधानी एक्सप्रेस में बैठे सभी यात्रियों को बस से उनके घर भेजा गया. वहीं  एक छात्रा जिद पर अड़ गई कि वह बस से नहीं जाएगी. इसके बाद रेलवे ने उसके लिए राजधानी एक्सप्रेस चलवाई और उसे दूसरे रूट से उसके घर भेजा. Also Read - Trains For Bihar/ IRCTC Booking : जाना है बिहार तो टिकट के लिए मत होइये परेशान! आज से इन क्लोन ट्रेनों में ऐसे करें टिकटों की बुकिंग

छात्रा ने बस से जाने से मना कर दिया था और जिद पर अड़ी थी कि जब उसने ट्रेन का टिकट लिया है तो वह बस से नहीं जाएगी. फिर उसे कार से भेजने की बात कही गई. रेलवे अधिकारियों ने छात्रा काे काफी देर तक समझाया, लेकिन वह नहीं मानी.जिसके बाद अधिकारियों ने रेलवे मुख्यालय से छात्रा की जिद को लेकर बात की. उसकी जिद पर काफी देर बाद तय हुआ कि छात्रा को राजधानी एक्सप्रेस से रांची भेजा जाएगा. Also Read - Clone Trains Ticket Booking News: क्लोन ट्रेनों में आज से होगी टिकटों की बुकिंग, क्या हैं रूट्स- कितना होगा किराया? जानिये सबकुछ....

रांची जाने के लिए ट्रेन को डालटनगंज से सीधे रांची जाना था जिसकी दूरी 308 किलोमीटर है. मगर, ट्रेन को गया से गोमो व बोकारो होकर रांची रवाना करना पड़ा. इस तरह उस लड़की की जिद के बाद ट्रेन को 535 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ी. छात्रा की सुरक्षा के लिए आरपीएफ की कई महिला सिपाही तैनात की गई थीं. लड़की को रांची स्टेशन छोड़ा गया और उसकी जिद रेलवे को पूरी करनी पड़ी.