रांची: झारखंड के सिमडेगा जिले के ठेठईटांगर गांव की रहने वाली और राष्ट्रीय व राज्य स्तर पर होने वाली मैराथन दौड़ प्रतियोगिता में कई पदक जीत चुकी संगीता लकड़ा के घर में शौचालय का निर्माण कार्य प्रारंभ हो गया है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के संज्ञान में आने के बाद उन्होंने संगीता के घर में शौचालय का निर्माण करवाने का निर्देश सिमडेगा के उपायुक्त को दिया था. Also Read - केंद्र सरकार को हाई कोर्ट का निर्देश, झारखंड को तत्काल दस हजार टेस्ट किट और 25 हजार पीपीई मुहैया कराएं

हाल ही में मणिपुर में हुई मैराथन दौड़ में स्वर्ण पदक प्राप्त कर राज्य का नाम रौशन करने वाली संगीता के घर में अब तक शौचालय नहीं था. संगीता की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं थी कि वह घर में शौचालय का निर्माण करा सके. संगीता कहती जरूर है कि खुले में शौच जाने के कारण उन्हें शर्मिन्दगी होती है, लेकिन मजबूरी में ऐसा करना पड़ता है. हालांकि, संगीता को सरकार ने राशन कॉर्ड उपलब्ध करा दिया है. संगीता के घर शौचालय नहीं होने को लेकर स्थानीय एक समाचार पत्र में खबर प्राकशित हुई. Also Read - प्रधानमंत्री के वीडियो संदेश पर कांग्रेस का तंज, पूछा- क्या बत्ती बुझाने और दीपक जलाने से कोरोना खत्म हो जाएगा


इसके बाद एक समाजिक कार्यकर्ता ने समाचार पत्र की कटिंग को ट्वीट कर मुख्यमंत्री के संज्ञान में लाते हुए लिखा, “लोंगो के लिए प्रेरणादायक खिलाड़ियों की ये दुर्दशा है तो बाकी का क्या, मुख्यमंत्री से निवेदन है जिला के कई राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों की स्थिति बहुत खराब है, कृपया उनकी सम्मान की रक्षा करें.” इसके बाद मुख्यमंत्री सोरेन ने ट्वीट कर सिमडेगा के उपायुक्त को निर्देश देते हुए लिखा, “कृपया जिले के इन पदक विजेता खिलाड़ियों की समस्याओं को प्रमुखता के आधार पर जरूरी सरकारी मदद पहुंचाते हुए सूचित करें.”

मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद संगीता के घर शौचालय निर्माण कार्य प्रारंभ हो गया है. इसकी जानकारी सिमडेगा उपायुक्त के ट्विटर हैंडल ने लिखकर मुख्यमंत्री को दिया गया है. इधर, मुख्यमंत्री के अधिकारिक बयान में कहा गया है कि राज्य की स्वर्ण पदक विजेता खिलाड़ियों को हो रही परेशानी को गंभीरता से लिया गया है. मुख्यमंत्री ने उपायुक्त सिमडेगा को जिला के इन पदक विजेता खिलाड़ियों की समस्याओं को प्रमुखता के आधार पर जरूरी सरकारी मदद पहुंचाने का निर्देश दिया.

 

(इनपुट-एजेंसी)