रांची: झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने झारखंड के राज्यपाल को पत्र लिखकर विधायक बंधु तिर्की व लातेहार के उपायुक्त अबू इमरान के बीच हुई कथित बातचीत के संबंध में कार्रवाई करने की मांग की है. पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्यपाल रमेश बैस को लिखे पत्र में उनसे इस मामले की जांच कराकर दोषी अधिकारी के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने का अनुरोध किया है.Also Read - Diwali Shopping Online Fraud: इस दिवाली कैसे बचें ऑनलाइन शॉपिंग स्कैम से | Watch Video

अपने पत्र में दास ने लिखा है, ”झारखंड के सभी प्रमुख समाचार पत्रों में आज एक खबर छपी है, जिसके कटिंग को मैं अपने इस पत्र के साथ संलग्न कर भेज रहा हूं.” इसके साथ साथ विभिन्न सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें कांग्रेस के विधायक बंधु तिर्की जी और लातेहार के उपायुक्त अबू इमरान की तथाकथित बातचीत है.” Also Read - Video: लालू यादव के बयान पर बोले नीतीश कुमार- 'वह मुझे गोली मरवा सकते हैं और...'

पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि कुछ दिन पूर्व झारखंड में लातेहार जिले में करमा पूजा के दौरान आदिवासी समाज की सात छोटी बच्चियां डूब गई थीं. उन्होंने लिखा है, ”इस घटना के संबंध में यह अत्यंत दुखद है कि वहां का उपायुक्त पीड़ित परिवार को सहयोग करने की बजाय इस वीडियो में राज्य के एक जनप्रतिनिधि को धर्म के नाम पर अपने कर्तव्य और कार्य से रोकने का प्रयास कर रहा है और उक्त जनप्रतिनिधि को लातेहार जिले में ना आने की सलाह दे रहा है, जो घोर आपत्तिजनक है. दास ने कहा है, ”मेरा अनुरोध है कि इस पूरे मामले में तत्काल लातेहार के वर्तमान उपायुक्त इमरान को निलंबित किया जाए.” Also Read - Chacha Ki Masti: आर्यन खान पर ऐसा कुछ बोल गए चाचा, सुन लिया तो रातभर हंसेंगे | देखिए ये मजेदार Video

बता दें कि बता दें कि एक ऑडियो वायरल हुआ है, जिसमें कांगेस विधायक बंधु तिर्की और डीसी अबू इमरान के बीच की बातचीत बताई जा रही है. कांग्रेस विधायक लातेहार जिले के शेरेगाड़ा जाना चाहते थे. उन्‍होंने लातेहार डीसी को अबू  इमरान को फोन किया तो उन्‍होंने उस इलाके के मुस्लिम बाहुल बताकर जाने से मना कर दिया. अबू इमरान ने कहा- ‘बचाने वाला मुसलमान है, सीओ भी मुसलमान है, डीसी भी मुसलमान है. इसको दूसरा टर्न ले लेगा तो फिर मुसलमान काफी नाराज होगा.