पटना : चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती थे. लेकिन, कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से लालू को लेकर अस्पताल प्रशासन चिन्तित था. जिसके बाद कथित तौर पर कोरोना वारयस संकट से बचाने के लिए बुधवार को लालू को रिम्स निदेशक के बंगले में स्थानांतरित कर दिया गया. इसपर भाजपा ने तंज कसा है और कांग्रेस पर आरोप लगाया है. Also Read - रघुवंश के जाने के बाद लालू हुए खामोश, जाते-जाते दोस्ती निभा गए लालू के ब्रह्म बाबा...

इस मामले में रिम्स अस्पताल की कार्यकारी निदेशक डॉक्टर मंजू गड़ी ने बताया कि लालू प्रसाद यादव को रिम्स निदेशक के बंगले में स्थानांतरित कर दिया गया क्योंकि उन्हें रिम्स के पेइंग वार्ड में कोरोना वायरस संक्रमण होने की आशंका थी।
उन्होंने बताया कि झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, राज्य सरकार के अधिकारियों एवं रिम्स के सामूहिक फैसले के तहत लालू प्रसाद यादव को रिम्स निदेशक के बंग्ले में स्थानांतरित किया गया है। Also Read - बिहार: रघुवंश की मौत के बाद लालू हुए गुमसुम, तेजप्रताप की फोटो हो रही वायरल, लगे ये आरोप

एक सवाल के जवाब में रिम्स निदेशक डॉक्टर गड़ी ने स्पष्ट किया कि लालू यादव की चिकित्सा कर रहे डॉक्टर उमेश प्रसाद एवं उनके सहयोगी किसी चिकित्सक तथा चिकित्सा कर्मी को कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं पाया गया था, लेकिन उनके वार्ड के बाहर सुरक्षा में तैनात तीन सुरक्षाकर्मियों को कुछ दिनों पूर्व कोरोना वायरस संक्रमित पाया गया था। एहतियातन लालू को कोरोना संक्रमण के किसी खतरे से बचाने के लिए निदेशक के बंगले में शिफ्ट किया गया है। Also Read - बिहार चुनाव : राजद कार्यालय के पास लगे बड़े चुनावी पोस्टर से लालू 'गायब'

उन्होंने बताया कि रिम्स निदेशक के बंगले के अलावा रिम्स प्रशासन के पास लालू को रखने के लिए कोई अन्य स्थान नहीं था इसलिए उन्हें बंगले में स्थानांतरित किया गया है और लालू को बंगले में स्थानांतरित कर देने से अब पेइंग वार्ड के 18 कमरे आम मरीजों के लिए उपलब्ध हो गए हैं।

भाजपा ने लालू को रिम्स निदेशक के बंगले में स्थानांतरित करने का विरोध किया है और आरोप लगाया है कि पिछले दिनों राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के सामने लालू को रिम्स में मोबाइल पर बात करते हुए कैमरे पर पकड़ा गया था जिसके बाद से ही उनके लिए सुरक्षित स्थान की तलाश में राज्य प्रशासन लगा था।

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा है कि रिम्स निदेशक के बंगले में लालू को स्थानांतरित करने के पीछे आगामी बिहार चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस की राजनीति स्पष्ट नजर आती है।