सर्दियां शुरू होते ही हम सभी इस ठंडे मौसम में खुद को गर्म रखने के तरह-तरह के उपाय आजमाते हैं. हालांकि, बिस्तर पर एक कप अपने पसंदीदा हॉट ड्रिंक्स के अलावा, शरीर को गर्म रखने के अन्य तरीके भी हैं. जी नहीं, हम गर्म फूड्स या कपड़ों की अधिक परतों की ओर इशारा नहीं कर रहे हैं, बल्कि शारीरिक गतिविधियों की बात कर रहे हैं. सर्दियों में फिट और गर्म रहने के लिए योग (Yoga For Winter) करने से बेहतर तरीका भला और क्या हो सकता है? योग फिटनेस और अभ्यास का एक रूप है जिसके मन, शरीर और आत्मा के लिए कई लाभ हैं. योग न केवल वजन कम करने का एक प्रभावी तरीका है, बल्कि यह उपचार का विज्ञान भी है जो सर्दियों के दौरान आपके लिए आवश्यक गर्मी की एक अतिरिक्त सुरक्षात्मक परत जोड़ सकता है. योग का अभ्यास घर में ही प्रभावी ढंग से किया जा सकता है। इस लेख में हम आपको 4 ऐसे योगासनों के बारे में बता रहे हैं जो सर्दी के मौसम में आपको नेचुरली गर्म रखने के साथ ही आपको फिट भी रखेंगे.Also Read - Yogasana For UTI: यूरिन इंफेक्शन से पाना है हमेशा के लिए छुटकारा? तो दवाईयों का सेवन नहीं, रोज करें ये योगासन

सर्दियों गर्म रहने के लिए करें ये 4 योगासन – Yogasana For Winter In Hindi

1. वशिष्ठासन (Vasisthasana)

इस पोज को साइड प्लैंक पोज (Side Plank Pose) के नाम से भी जाना जाता है. आप इस अभ्यास को निम्न चरणों में कर सकते हैं: Also Read - Yoga For Dark Circles: बढ़ने लगे हैं आंखों के नीचे डार्क सर्कल? रोजाना करें ये 4 योगासन, जल्द मिल जाएगा छुटकारा

  • योगा मैट पर हाथ रखकर बैठ जाएं और पैरों को सीधा फैला लें.
  • हाथ की ताकत का उपयोग करके अपने शरीर को अपनी तरफ उठाएं ताकि आपका शरीर फर्श से 45 डिग्री के कोण पर हो.
  • दूसरे हाथ को हवा में सीधा ऊपर उठाएं.
  • दूसरे पैर को उस पैर पर टिकाएं जो फर्श के संपर्क में हो.

2. नौकासन (Naukasana)

इस मुद्रा को बोट पोज (Boat Pose) के नाम से भी जाना जाता है. आप इस अभ्यास को निम्न चरणों में कर सकते हैं: Also Read - Yogasana For Belly Fat: इनमें से कर लें कोई भी एक योग, कुछ ही दिनों में कम हो जाएगा लटकता हुआ बैली फैट

  • योगा मैट पर लेट जाएं.
  • अपने पैरों को फैलाते हुए ऊपर उठाएं.
  • सुनिश्चित करें कि आपके पैर फर्श से 45 डिग्री के कोण पर हैं.
  • अपने कूल्हों को धुरी के रूप में उपयोग करके अपने ऊपरी शरीर को ऊपर उठाएं.
  • अपने हाथों को सीधा फैलाकर रखें.
  • आपकी पोजीशन n उल्टे ‘A’ से मिलती जुलती होनी चाहिए.

3. शीर्षासन (Sirsasana)

इस मुद्रा को हेड स्टैंड (Headstand Pose) के रूप में भी जाना जाता है. आप इस अभ्यास को निम्न चरणों में कर सकते हैं:

  • इस मुद्रा के लिए आप दीवार का सहारा ले सकते हैं.
  • अपनी कोहनियों को फर्श पर टिकाएं और अपना सिर उनके बीच में रखें.
  • अब अपने निचले शरीर को खींचे ताकि यह उल्टा हो जाए और इसे सीधे दीवार से सटा दें.
  • इसे संतुलित करें ताकि आप गिर न जाएं.
  • फिर दीवार के सहारे को छोड़ दें और कम से कम 5 मिनट के लिए इस मुद्रा में रहें.

4. शवासन (Savasana)

इस मुद्रा को कॉर्प्स पोज़ (Corpse Pose) के रूप में भी जाना जाता है. आप इस अभ्यास को निम्न चरणों में कर सकते हैं:

  • योगा मैट पर लेट जाएं.
  • शरीर को आराम दें और अपने शरीर पर ध्यान केंद्रित करना शुरू करें, अपने सिर से शुरू करके अपने पैर की उंगलियों तक.
  • आप अपने शरीर से निकलने वाले तनाव को महसूस करेंगे.
  • 10 से 20 मिनट तक इसी मुद्रा में रहें.