अक्‍सर हम सभी शारीरिक बदलावों, बीमारियों के होने पर चिंतित होते हैं. चेकअप कराते हैं और तब जाकर ये जान पाते हैं कि हमें कोई प्रॉब्‍लम क्‍यों हो रही है.

कई बार तो ऐसा भी होता है कि बीमारी कोई और होती है और उसके लक्षण पकड़ में ही नहीं आते. इसकी एक वजह जागरुकता में कमी भी है.

Tips: कंडोम खरीदकर थक चुके हैं तो जल्द आ रहा है Male Birth Control Gel, ऐसे करेगा काम…

इसलिए हम आपको ऐसे लक्षणों के बारे में बता रहे हैं जो गंभीर बीमारी की वजह से चेहरे पर दिखते हैं. अगर आपको भी ये दिखें तो इन्‍हें कभी इग्‍नोर ना करें.

1. Pale skin यानी चेहरे पर पीलापन आना. ये या तो एनीमिया यानी खूनी की कमी से होता है या पीलिया होने पर. शरीर में पोषक तत्‍वों की कमी का ये लक्षण है. ऐसे में ब्‍लड प्रेशर की जांच कराना भी आवश्‍यक होता है.

2. Cracked lips यानी होंठो का फटा रहना. अक्‍सर सर्दियों के मौसम में होंठ फटे रहते हैं पर लगातार ये समस्‍या रहना चिंता की बात है. ये cheilitis वायरस की वजह से होता है. इसमें होंठों के आसपास सफेद रंग की लाइन बनने लगती है. सही समय पर इलाज शुरू ना करने पर इससे स्किन कैंसर का खतरा हो जाता है.

Tips: बादाम सूखे खाने चाहिए या भिगोकर, क्या खाली पेट खा सकते हैं? जानें हर सवाल का जवाब…

Body-Moles-Pictures-4

3. Moles यानी मस्‍से होना कोई चिंता की बात नहीं. मगर इनका आकार या रंग बदलने लगे तो इसे कभी हल्‍के में ना लें.

4. Acne around the jawline यानी जबड़ों के आसपास मुंहासे होना. अक्‍सर लड़कियों को मुहांसे होने की समस्‍या ज्‍यादा होती है पर औरतों को पिंपल होना चिंता का विषय होता है. अक्‍सर ज्‍यादा उम्र में जबड़ों के पास पिंपल हों और ठीक ना होते हों तो ये हॉर्मोनल प्रॉब्‍लम्‍स, विटामिन बी की कमी या PCOS की वजह से हो सकता है.

Tips: डिनर करने का सही वक्त क्या है? देर रात खाने का क्या होता है असर?

5. Sores यानी घाव को हल्‍के में ना लें. होंठ या नाक के पास होने वाले घाव चिंता का विषय होते हैं. ये टाइप 1 हर्पीस वायरस की वजह से होते हैं. ठीक होने के बाद फिर घावों का हो जाना चिंता का विषय होता है.

6. Hair On Skin यानी चेहरे पर अनचाहे बाल. ये खासतौर पर महिलाओं के लिए है. महिलाओं को ठुड्डी पर बाल उग आते हैं. लोग इसे ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट्स से जोड़कर देखते हैं पर वास्‍तव में ये हेल्‍थ इश्‍यू होता है. इसे Hirsutism कहा जाता है. यह शरीर में हार्मोनल इंबैलेंस की वजह से होता है.

Tips: अगर चाय-कॉफी में गिर जाए मक्खी-मच्छर तो क्या उसे पीना चाहिए?

7. Facial paralysis यानी चेहरे का लकवा. इसमें चेहरा टेढ़ा हो जाता है. जबड़ों के आसपास और कानों के पीछे दर्द होने लगता है. दरअसल ये एक तरह का वायरस होता है, जो चेहरे की नसों को दबाता जाता है. इस कारण दर्द और सूजन होता है. चेहरे के एक हिस्‍से में दर्द या सूजन रहे तो उसे इग्‍नोर ना करें.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.