ठंड के मौसम आ चुका हुआ है और दिल्लीवालों के लिए एक खुशखबरी लेकर आई हैं, जी हां अब आपको अगप बोटिंग का मजा लेना है तो आप अब मॉडल टाउन की नैनी झील में जा सकते हैं. जी हां दिल्ली की सरकार ने आखिकार पांच सालों के बाद एक बार फिर से बोटिंग शुरु करवा दी है. दिल्ली टूरिज्म एंड ट्रांसपोर्ट डिवेलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड (DTTDC) ने इसकी इजाजत दे दी है. हालांकि इस दौरान आपको कोरोना के गाइनलाइंस का भी खास ध्यान देना होगा ताकि आप बिना किसी ड़र औऱ रोकटोक के इसका मजा ले सकें. Also Read - वीडियो: पीएम नरेन्द्र मोदी ने डल झील में बोटिंग का लिया लुत्फ

दिल्ली टूरिज्म एंड ट्रांसपोर्ट डिवेलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड के अधिकारी का कहना हैं,’ नैनी झील पर 15 पैडल बोट रखी गई है. यहां पर आप सुबह 11 बजे से 6 बजे तक किसी भी दिन आ सकते हैं. हालांकि इस दौरान आपको कोरोना वायरस की गाइडलाइन को जरूर पालन करना होगा. दिल्ली टूरिज्म एंड ट्रांसपोर्ट डिवेलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड के अनुसार, ‘कोरोना वायरस का ध्यान रखने एक वोट में केवल 2 लोग ही सैर कर सकते हैं. Also Read - उत्तराखंड के मशहूर हिल स्टेशन नैनीताल के मॉल रोड का एक हिस्सा झील में गिरा, देखें VIDEO

कोरोना वायरस गाइडलाइन के मद्देनजर ने केवल दो लोग सैर करेंगे बल्कि इसके साथ ही हर किसी को मास्क लगाकर हर समय रहना होगा. साथ ही आप जब अंदर जाएंगे तो इस दौरान आपके हाथों को सैनिटाइज किया जाएगा. साथ ही इस दौरान आप खुद को सुरक्षित रखते हुए दो गज की दूरी बनाकर जरुर रखें.

एंट्री फीस की बात करें तो आधा घंटे के लिए 130 रूपए रखी गई है. जब आप बोटिंग करेंगी तो इस दौरान आपको लाइफ गॉर्ड्स, जैकेट आदि दी जाएंगी. नॉर्थ एमसीडी के हॉर्टिकल्चर विभाग के डायरेक्टर आशीष प्रियदर्शी ने बताया कि दिल्ली टूरिज्म को सौंपने से पहले सिलिक एजेंसी से रखरखाव को लेकर काम किया था.

साल 2015 में में स्थानीय आरडब्ल्यूए के विरोध अड़ंगे के बाद एमसीडी ने समझौता रद्द कर दिया था और झील को अपने कब्जे में ले लिया, इसके बाद यहां बोटिंग भी बंद कर दी गई. हालांकि अब इसके चलाने व रखरखाव की जिम्मेदारी दिल्ली पर्यटन एवं परिवहन विकास निगम की होगी.