खाना खाने के बाद कई काम करने को मना किया जाता है. चाहे लंच हो या डिनर, खाने के तुरंत बाद ये काम करने से बॉडी का डाइजेस्टिव सिस्‍टम बिगड़ जाता है.

– कई लोगों को खाने के तुरंत बाद चाय पीने की आदत होती है लेकिन ये काफी नुकसानदेह होती है. चाय में पॉलिफिनॉल्स और टेनिंस नाम के केमिकल्स होते हैं जो खाने के पोषक तत्वों को खत्म कर देते हैं. चाय की पत्तियों में एसिडिक प्रापर्टी होती है, इसलिए तुरंत खाने के बाद चाय पीने से प्रोटीन का डाइजेशन नहीं हो पाता और इनडाइजेशन की प्रॉब्लम हो सकती है. खाने के कम से कम 2 घंटे बाद चाय पीनी चाहिए.

– खाना खाने के बाद फल खाने पर उनका डाइजेशन सही तरह से नहीं हो पाता और उनका पूरा न्यूट्रीशन बॉडी को नहीं मिलता. फल में बड़ी मात्रा में एसिड, ग्लूकोज, फ्रक्टोज, स्टार्च आदि होता है, जो खाना पचाने की प्रकिया को धीमा कर देता है. खाना खाने के एक घंटे बाद फल खाना बेहतर माना जाता है.

– खाने के बाद तुरंत नहाने से बॉडी का टेम्प्रेचर गिर जाता है. बॉडी ठंडी हो जाती है जिसका असर ब्लड सर्कुलेशन पर पड़ता है. खाने के तुरंत बाद नहाने से डाइजेशन धीमा हो जाता है क्योंकि काफी एनर्जी बॉडी टेम्प्रेचर को नार्मल रखने में खर्च हो जाती है.

– खाने के बाद पी गई सिगरेट 10 गुना ज्यादा बुरा असर डालती है. खाने के बाद उसे पचाने के लिए ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है. सिगरेट पीने से उसमें मौजूद निकोटिन और टॉक्सिन्स ब्लड में 10 गुना तेज़ी से रिसता है, जिससे पाचक ग्रंथि, किडनी, दिमाग, दिल और फेफड़ों को नुकसान पहुंचता है. इससे कैंसर की आशंका बढ़ जाती है साथ ही दिल और सांस से जुड़ी कई बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. खाने के कम से कम 2 घंटे तक सिगरेट आदि नशे का सेवन नहीं करना चाहिए.

– खाना खाने के बाद तुरंत लेटने से सेहत को नुकसान हो सकता है. खाना खाकर तुरंत लेट जाने से डाइजेशन धीमा हो जाता है. खाने के कम से कम दो घंटे बाद ही लेटे या सोएं.