वाशिंगटन: अगर आप रात में छह घंटे से कम समय की नींद लेते हैं तो यह आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है. एक अध्ययन में बताया गया है कि जो लोग सात से आठ घंटे की नींद लेते हैं उनके मुकाबले छह घंटे से कम सोनेवाले लोगों में हृदय संबंधी बीमारियों का ज्यादा खतरा रहता है. Also Read - Alert: कोविड-19 रोगियों में किडनी खराब होने का जोखिम बढ़ा

Also Read - Potassium Rich Food: अपने हार्ट और किडनी को स्वस्थ रखने के लिए खाएं ये फूड्स, पोटेशियम की कमी होगी पूरी

Health Alert: जानें क्या है ‘विंटर ब्लू’, सर्दियों में क्यों बढ़ते हैं लोगों में Depression के लक्षण Also Read - किसी भी काम की शुरूआत से पहले इनकी बात सुनती हैं विद्या बालन, 10 साल पहले...

यह अध्ययन ‘अमेरिकन कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी’ में प्रकाशित हुआ है. इसमें बताया गया है कि अगर आप अच्छी नींद नहीं लेते हैं तो ऐथिरोस्क्लेरोसिस नाम की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है. इस बीमारी में शरीर की नाड़ियों में प्लेक जम जाता है जिससे वे सख्त और संकरी हो जाती हैं और उनमें खून का दौरा कम हो जाता है. स्पेन के सेंट्रो नेशनल डी इंवेस्टिगेशियोनेस कार्डियोवेस्कुलरेस कार्लोस जोस एम ओर्दोवास ने बताया कि हृदय संबंधी बीमारी एक वैश्विक समस्या है और हम दवाई, शारीरिक गतिविधि और खान-पान सहित विभिन्न तरीकों से इसकी रोकथाम एवं उपचार कर रहे हैं.

Health Tips: ठंड के मौसम में इन उपायों को अपनाकर रहें स्वस्थ

हृदय रोग से निपटने के लिए पर्याप्त नींद जरूरी

ओर्दोवास ने कहा कि लेकिन यह अध्ययन इस बात पर जोर देता है कि हृदय रोग से निपटने के लिए पर्याप्त नींद लेना होगा. यह एक ऐसी चीज है जिसके साथ हम रोजाना समझौता करते हैं.

Health Alert: कैल्शियम के कण दे सकते हैं दिल के रोग का संकेत

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.