नई दिल्ली: सर्दियों का मौसम शुरू होते ही मार्केट में आवंला बिकने लगता है. यह तो सभी जानते हैं कि आंवला सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है. स्वाद में खट्टा होने वाला आंवला विटामिन सी का बहुत अच्छा स्रोत है. विटामिन सी का बहुत अच्छा स्रोत है. डायबिटीज के मरीजों के लिए आंवला बहुत काम की चीज है. पीड़ि‍त व्यक्ति अगर आंवले के रस का प्रतिदिन शहद के साथ सेवन करे तो बीमारी से राहत मिलती है.Also Read - Health Tips: रात को सोने से पहले भूलकर भी ना करें इन खाद्य पदार्थों का सेवन, नींद पर पड़ सकता है बुरा प्रभाव | Expert Speaks

आवंला की चाय बनाने की विधि
आंवले की चाय बनाने के लिए एक पैन में डेढ़ या दो कप पानी डालकर आंच पर चढ़ा दें. जब पानी में उबाल आने लगे तो इसमें 1 चम्मच आंवला पाउडर और थोड़ा सा क्रश किया हुआ अदरक डाल दें. इसके अलावा आप पुदीने की 2 से 3 ताजी पत्तियां भी डाल सकते हैं. इन सभी मिश्रण को 2 मिनट तक उबालने के बाद आंच से उतार लें. अब छलनी के माध्यम से इसे छानकर चाय की तरह सेवन करें. Also Read - विराट कोहली, हाशिम आमला को पीछे छोड़ पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने बनाया ये विश्व रिकॉर्ड

आंवला की चाय के फायदे Also Read - TIPS: सुबह-सुबह ना करें ये 5 काम, खराब हो जाएगा पूरा दिन

– एसिडिटी की समस्या होने पर आंवला बेहद फायदेमंद होता है. आंवला की चाय पीने से एसिडिटी की समस्या दूर हो जाती है.

– रक्त में हीमोग्लोबिन की कमी होने पर, प्रतिदिन आंवले का सेवन करना काफी लाभप्रद होता है. यह शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में सहायक होता है, और खून की कमी नहीं होने देता.

– पथरी की समस्या में भी आंवला कारगर उपाय साबित होता है. आवंला की चाय पीने से पथरी दल जाती है.

– आंखों के लिए आंवला अमृत समान है, यह आंखों की रौशनी को बढ़ाने में सहायक होता है.