नई दिल्ली: सर्दियों का मौसम शुरू होते ही मार्केट में आवंला बिकने लगता है. यह तो सभी जानते हैं कि आंवला सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है. स्वाद में खट्टा होने वाला आंवला विटामिन सी का बहुत अच्छा स्रोत है. विटामिन सी का बहुत अच्छा स्रोत है. डायबिटीज के मरीजों के लिए आंवला बहुत काम की चीज है. पीड़ि‍त व्यक्ति अगर आंवले के रस का प्रतिदिन शहद के साथ सेवन करे तो बीमारी से राहत मिलती है. Also Read - Indian Gooseberry Seed Benefits: आंवला खाने के बाद भूलकर भी ना फेंके इसकी गुठली, वरना इन फायदों से जाएंगे चूक

आवंला की चाय बनाने की विधि
आंवले की चाय बनाने के लिए एक पैन में डेढ़ या दो कप पानी डालकर आंच पर चढ़ा दें. जब पानी में उबाल आने लगे तो इसमें 1 चम्मच आंवला पाउडर और थोड़ा सा क्रश किया हुआ अदरक डाल दें. इसके अलावा आप पुदीने की 2 से 3 ताजी पत्तियां भी डाल सकते हैं. इन सभी मिश्रण को 2 मिनट तक उबालने के बाद आंच से उतार लें. अब छलनी के माध्यम से इसे छानकर चाय की तरह सेवन करें. Also Read - Ashwagandha Side Effects In Hindi: इन 3 तरह के लोगों के लिए जहर की तरह काम करता है अश्वगंधा, हो जाएं सावधान...

आंवला की चाय के फायदे Also Read - Health Tips: जानें सर्दियों में क्यों खाना चाहिए कम नमक, इन बीमारियों से रहेंगे कोसों दूर

– एसिडिटी की समस्या होने पर आंवला बेहद फायदेमंद होता है. आंवला की चाय पीने से एसिडिटी की समस्या दूर हो जाती है.

– रक्त में हीमोग्लोबिन की कमी होने पर, प्रतिदिन आंवले का सेवन करना काफी लाभप्रद होता है. यह शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में सहायक होता है, और खून की कमी नहीं होने देता.

– पथरी की समस्या में भी आंवला कारगर उपाय साबित होता है. आवंला की चाय पीने से पथरी दल जाती है.

– आंखों के लिए आंवला अमृत समान है, यह आंखों की रौशनी को बढ़ाने में सहायक होता है.