बॉडी हगिंग जींस यानि की टाइट का चलन आजकल बहुत ज्यादा बढ़ गया है, खासकर युवा आजकल इसी तरह के जींस को अपना साथी बना रहे हैं. अगर आप भी इस जींस के मुरीद हैं तो थोड़ा सचेत हो जाएं, क्योंकि इसे ज़्यादा पहनना कई तरह की सेहत संबंधी परेशानियों का कारण बन सकता है.

जींस की अच्छी फिटिंग हर किसी को पसंद होता है और आजकल तो इसका क्रेज अलग ही हो रहा है लेकिन अगर आप भी जींस या फिर लेगिंग्स का चुनाव करते वक्त इस एक चीज पर ज्यादा फोकस करती हैं तो सावधान हो जाइए. क्योंकि जींस की जबरदस्त फिटिंग आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकती है. जानें फिटिंग वाली जींस पहनने से सेहत को कौन कौन से नुकसान हो सकते हैं.

1. स्किन की समस्या
जींस जब आप पहनते हैं तो ये जाहिर है की आप किसी से काम से बाहर जा रहे हैं. लोग इसे ऑफिस या फिर दोस्तों के साथ पार्टी करने के दौरान पहनते हैं. लेकिन अगर आप बहुत ज्यादा टाइट जिंस पहन रहें और वो लंबे के लिए है तो ऐसे में इससे आपकी स्किनपर बुरा प्रभाव पड़ेगा. दरअशल जींस का कपड़ा मोटा होता है और वो आपकी स्किन से चिपका होता है ऐसे में जाहिर है कि वो हवा को आपकी स्किन से दूर रखता है जिस वजह से कई बार लोगों को खुजली होने लगती है.

2. मांसपेशियां होती हैं कमजोर
फिटिंग वाली जींस लगातार पहनने से पेट और कमर के निचले हिस्से की मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं. दरअसल जींस इतनी टाइट रहती हैं कि वो हड्डियों और जोड़ों के बीच फंस जाती है, इस कारण कई बार पीए और कमर के अलावा पैरों में भी दर्द होता है.

3. एसिडिटी
लो वेस्ट या टाइट जींस पहनने से पेट पर दबाव पड़ता है, जिससे पेट में तेज़ दर्द, एसिडिटी या जलन की समस्या के साथ-साथ पाचन क्रिया भी प्रभावित होती है. ऐसे में अगर आप जींस पहनकर लगातार एक ही जगह बैठ जाएं तो छाती और गले दोनों में जलन महसूस होती है.

4. यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन
स्किनी जींस से यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन का खतरा भी हो सकता है। इससे ब्लैडर ओवरऐक्टिव होकर कमज़ोर हो जाता है और स्पर्म काउंट में कमी जैसे परिणाम सामने आते हैं. टेस्टिकल का टेम्प्रेचर भी बढ़ जाता है.