नई दिल्ली: ईद-उल-अजहा (Eid-ul-Adha) यानी बकरीद 22 अगस्त को है. कुछ ही दिन बचे हैं. अपनों, दोस्तों और चाहने वालों को लोग मोबाइल और व्हाट्सएप पर ईद की मुबारक देंगे, लेकिन कई बार अच्छी शायरी, संदेश नहीं मिलते या काफी तलाशनी पड़ती हैं. इसीलिए हम आपके लिए कुछ गिने-चुने शायरों की ख़ास शायरी लाए हैं… इन शायरी को भेज आप ईद मुबारक की शुभकामनाएं दे सकते हैं, खुशी जता सकते हैं.Also Read - Eid-ul-Fitr 2021 Eid Mubarak Shayari: ईद पर भेजें हिंदी-उर्दू में ये खास शायरी, इस अंदाज में कहें ईद मुबारक...

1. चलो हम ईद मनाएं कि जश्न का दिन है
ख़ुशी के गीत सुनाएं कि जश्न का दिन है
रुख़ों पे फूल खिलाएं कि जश्न का दिन है
दिलों में प्रीत जगाएं कि जश्न का दिन है
शिफ़ा कजगावन्वी Also Read - नेशनल कॉन्फ्रेंस का दावा- फारूक अब्दुल्ला को नमाज पढ़ने के लिए घर से बाहर जाने से रोका गया

2. देखा हिलाल-ए-ईद तो आया तेरा ख़याल
वो आसमाँ का चाँद है तू मेरा चाँद है
अज्ञात Also Read - Eid-e-Milad: राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने देशवासियों को दी ईद- ए-मिलाद की शुभकामनाएं

3. ईद आई तुम न आए क्या मज़ा है ईद का
ईद ही तो नाम है इक दूसरे की दीद का
अज्ञात

4. महक उठी है फ़ज़ा पैरहन की ख़ुशबू से
चमन दिलों का खिलाने को ईद आई है
मोहम्मद असदुल्लाह

5. उस से मिलना तो उसे ईद-मुबारक कहना
ये भी कहना कि मिरी ईद मुबारक कर दे
दिलावर अली आज़र

6. वादों ही पे हर रोज़ मिरी जान न टालो
है ईद का दिन अब तो गले हम को लगा लो
मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी

7. आज यारों को मुबारक हो कि सुब्ह-ए-ईद है
राग है मय है चमन है दिलरुबा है दीद है
आबरू शाह मुबारक

8. ईद का दिन आज आया, चलो मिलके करें यही वादा
कुरान की दिखाई सही राह पर हम चलेंगे सदा

9. आई ईद व दिल में नहीं कुछ हवा-ए-ईद
ऐ काश मेरे पास तू आता बजाए ईद
शैख़ ज़हूरूद्दीन हातिम

10. सोचा किसी अपने से बात करूं
अपने किसी खास को याद करूं
किया जो फैसला ईद मुबारक कहने का
दिल ने कहा.. क्यों ना सबसे पहले आपसे शुरुआत करूं.