अक्‍सर बड़े-बुजुर्ग कहते हैं कि सुबह जल्‍दी उठने की आदत डालो. इसके कई फायदे होते हैं. अब एक अध्‍ययन में भी इस बात पर मुहर लग गई है.Also Read - यूजीसी की गाइडलाइंस का मसौदा, यूनिवर्सिटी, कॉलेजों के छात्रों को स्‍ट्रेस, डिप्रेशन से न‍िपटने में मदद के लिए तैयार होंगे प्रकोष्‍ठ

Also Read - Health Tips: रात को सोने से पहले भूलकर भी ना करें इन खाद्य पदार्थों का सेवन, नींद पर पड़ सकता है बुरा प्रभाव | Expert Speaks

Tips: जब शरीर में कम होता है कैल्शियम, सबसे पहले दिखते हैं ये 7 लक्षण… Also Read - Pregnancy Care Tips: क्या प्रेगनेंसी के दौरान ले सकते हैं एंटीडिप्रेसेंट दवाई? जानें गायनेकोलॉजिस्ट से

अध्ययन में कहा गया है कि जिन लोगों में आनुवांशिक रूप से सुबह जल्दी उठने की आदत होती है, उनका मानसिक स्वास्थ्य बेहतर हो सकता है. यही नहीं, ऐसे लोगों को सिजोफ्रेनिया और डिप्रेशन होने का खतरा कम होता है.

इस अध्‍ययन की रिपोर्ट को नेचर कम्युनिकेशंस नाम के जर्नल में प्रकाशित किया गया है. अध्ययन में ‘बॉडी क्लॉक’ को लेकर कुछ खुलासे किए गए हैं. इसमें बताया गया है कि सुबह उठना मानसिक स्वास्थ्य और बीमारियों से कैसे जुड़ा होता है.

ये है ऐसा तेल, जिसे लगाने से नहीं झड़ेगा एक भी बाल, अच्‍छा रहेगा मूड…

हालांकि इस अध्ययन के नतीजे का मधुमेह या मोटापे जैसी बीमारियों से किसी मजबूत संबंध होने का खुलासा नहीं हुआ है, जैसे की पूर्व में कयास लगाए जाते रहे हैं.

अध्‍ययन किया ब्रिटेन में एक्सटर विश्वविद्यालय और अमेरिका के मैसाच्युसेट्स जनरल हॉस्पीटल (एमजीएच) ने. अध्ययन में ‘बॉडी क्लॉक’ के लिये शरीर की मदद में आखों के रेटीना की अहम भूमिका को रेखांकित किया गया है.

(एजेंसी से इनपुट)

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.