Breakfast Tips: नाश्ते में उच्च प्रोटीन वाला दूध पीने से मधुमेह रोगियों को रक्त में शर्करा को नियंत्रण में रखने में मदद मिलती है. ये बात एक नए शोध में सामने आई है. Also Read - गाय या भैंस, कौन सा दूध बच्‍चों के लिए ज्‍यादा बेहतर, जानें...

शोध किया कनाडा के यूनिवर्सिटी ऑफ ग्वेल्फ और यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो के अनुसंधानकर्ताओं ने. इसमें पता चला कि नाश्ते में बदलाव के जरिये टाइप टू मधुमेह के नियंत्रण में मदद मिलती है. Also Read - ताकत का देसी टॉनिक है हल्‍दी वाला दूध, बीमारियों से रखता है दूर, 10 बेमिसाल फायदे...

Also Read - ब्लड शुगर और बढ़ते वजन से हैं परेशान, खाने में इन चीजों को करें शामिल और समस्या से पाएं छुटकारा

अनुसंधान के परिणाम के मुताबिक, नाश्ते के दौरान लिये गए दूध से रक्त में ग्लूकोज की मात्रा में कमी आती है. साथ ही, उच्च प्रोटीन वाला दूध सामान्य प्रोटीन वाले डेयरी उत्पादों की तुलना में खाने के बाद ग्लूकोज की मात्रा में कमी लाने में सहायक है.

इस अध्‍ययन की रिपोर्ट को जर्नल ऑफ डेयरी साइंस में प्रकाशित किया गया था. अध्ययन नाश्ते के समय दूध पीने के महत्व को रेखांकित करता है. इससे कार्बोहाइड्रेट का पाचन धीरे-धीरे होता है और इससे रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है.

अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि पोषण विशेषज्ञ हमेशा से पोषक तत्वों से भरपूर नाश्ते की हिमायत करते रहे हैं और यह अध्ययन नाश्ते में दूध को भी शामिल करने को बढ़ावा देता है.

लाइफस्‍टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.