नई दिल्‍ली: आज अंतरराष्‍ट्रीय महिला दिवस है और देश का हर राज्‍य आज महिलाओं की सुरक्षा के लिए पहल कर रहा है. दिल्‍ली की बसों में जहां अलार्म अलर्ट बटन की शुरुआत हुई है. वहीं केरल में भी महिलाओं के लिए आज से एक खास व्‍यवस्‍था लागू होने जा रही है. केरल के हर रेलवे स्‍टेशन पर ब्रेस्‍टफीडिंग कैबिन बनाने की योजना बनाई गई है, जहां बैठकर महिलाएं बच्‍चों को अपना दूध पिला सकती हैं. सबसे पहले इसकी शुरुआत कोल्‍लम स्‍टेशन से की गई है. Also Read - Railways News: श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 9 यात्रियों की मौत के बाद रेलवे ने कहा- प्लीज इस तरह के पैसेंजर्स न करें यात्रा

Also Read - रेलवे ने बताया क्यों राउरकेला पहुंच गई गोरखपुर जाने वाली ट्रेन, इस वजह को दिया हवाला

भारतीय रेलवे किए गए इस पहल से माताएं सहज और सुरक्ष‍ित अपने नवजातों को अपना दूध पिला सकेंगी. रेल मंत्रालय ने आज महिलाओं को अंतरराष्‍ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं देते हुए यह जानकारी शेयर की, जिसमें ब्रेस्‍टफीडिंग केबिन की तस्‍वीरें भी शेयर की गईं. Also Read - अगले 10 दिन में श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से यात्रा करेंगे 36 लाख प्रवासी, रेलवे ने कहा- अपनी जरूरतें बताएं राज्य

फोटो साभार- www.mathrubhumi.com

फोटो साभार- www.mathrubhumi.com

क्‍या है पूरा प्रोजेक्‍ट

रेलवे के साथ मिलकर इस प्रोजेक्‍ट पर रोटरी क्‍लब ऑफ रॉयल सिटी काम कर रहा है. रोटरी के गर्वनर सुरेश मैथ्‍यू ने इसकी शुरुआत की है. कोल्‍लम रेलवे स्‍टेशन पर दो ब्रेस्‍टफीडिंग कैबिन बना दिया गया है. योजना के तहत इसे राज्‍य के सभी रेलवे स्‍टेशनों पर लगाया जाएगा. हालांकि शुरुआत में इसे बस स्‍टैंड पर लगाया गया था, लेकिन सेक्‍योरिटी स्‍टाफ ना होने के कारण इन कैबिन्‍स का गलत इस्‍तेमाल होता देखा गया.

यह भी पढ़ें: पूरी होगी 26 इंच कमर की चाहत, रोजाना करें आसान से ये 5 काम

अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मांओं की सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए यह कैबिन तैयार किया गया है. इन कैबिन्‍स को महिलाओं के वेटिंग रूम में बनाया गया है. कैबिन महिलाओं के लिए है, इसलिए इसे गुलाबी रंग से रंगा गया है, जिसपर मां और बच्‍चे की तस्‍वीर भी बनाई गई है. इसमें मां के बैठने के लिए सीट भी बनाई गई है. एक पंखा लगा है और इसमें रोशनी की व्‍यवस्‍था भी की गई है.

कैबिन में थोड़ी एक्‍सट्रा जगह भी बनाई गई है ताकि बच्‍चे को दूध पिलाने के दौरान महिलाएं अपना सामान यहां रख सकें. बता दें कि हाल ही में दक्ष‍िण के एक मैग्‍जीन के कवर पर बच्‍चे को दूध पिलाते हुए एक एक्‍ट्रेस को दिखाया गया था. मामले पर विवाद बढ़ने के बाद केरल सरकार ने यह कदम उठाया है.