लखनऊ: कोरोना वायरस के कारण देशभर में लॉकडाउन लगा हुआ है ऐसे  में लोगों की शारीरिक गतिविधियां भी सीमित हो गई हैं। लोगों को अपना वजन बढ़ने की चिंता सताने लगी है. विशेषज्ञों का मानना है कि घरेलू काम से हम अपनी कैलोरी बर्न कर सकते हैं. साथ ही हम अपने वजन को भी नियंत्रण में रख सकते हैं. किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी की पोषण विशेषज्ञ डॉ. सुनीता सक्सेना ने बताया कि कोरोना संकट से लगे लॉकडाउन के कारण हमारी शारीरिक गतिविधियां बहुत सीमित हो गई हैं, लेकिन हमें घबराने की जरूरत नहीं है. हम योगा, व्यायाम, अपनी छतों या लन में ही टहलकर, मेडिटेशन कर सकते हैं एक तो इससे तनाव साथ में वजन नियंत्रण में रहेगा. Also Read - दिल्ली के सभी बॉर्डर सील, एंट्री के लिए आपके पास होना चाहिए यह पास

डॉ. सक्सेना बताती हैं कि इस समय हमें प्रतिदिन 1800 से 1900 कैलोरी की आवश्यकता है क्योंकि हमारी गतिविधियां बहुत अधिक मेहनत वाली नहीं हैं. यदि हम अपनी ऊर्जा की खपत नहीं करेंगे तो हमारा वजन बढ़ना लाजिमी है. इसलिए हमें कुछ न कुछ काम करते रहना चाहिए ताकि हमारी ऊर्जा की खपत हो. आप हांथ से कपड़े धोते हैं और उन्हें तह कर रखते हैं तो आप 1 घंटे में 148 कैलोरी बर्न कर सकते हैं. इसी तरह आप हाथों से बर्तन साफ कर 128 कैलोरी बर्न कर सकते हैं. Also Read - मध्य प्रदेश: कोरोना संक्रमण का आंकड़ा 8,283 तक पहुंचा, 385 में सबसे ज्यादा मौतें इंदौर में

आप कपड़े प्रेस करते हैं तो आपकी 80 कैलोरी बर्न होती है. घर में झाड़ू लगाने में लगभग 156 कैलोरी, पोछा लगाने में 170 कैलोरी व बिस्तर लगाने में आपकी 70 कैलोरी खर्च होती है. यह रोजमर्रा के काम हैं जो कि देखने में छोटे लगते हैं लेकिन व्यक्ति को स्वस्थ रखने में इनका योगदान होता है. कार धोने में 314, डस्टिंग करने में 166 कैलोरी बर्न होती है. डॉ. सुनीता का कहना है इन कामों को करने से एक तो आपका समय भी उपयोग होगा, आप व्यस्त रहेंगे. Also Read - वर्क फ्रॉम होम: 'बॉस' रात में करते हैं VIDEO CALL, कम कपड़ों में करते हैं मीटिंग, परेशान हैं महिलाएं

उन्होंने बताया कि सबसे पहले यह आवश्यक है कि हम अपनी दिनचर्या नियमित करें. ऐसा न हो कि हम घर पर हैं तो न हमारे खाने का समय निश्चित है और न ही सोने व जागने का. हमें सुबह का नाश्ता 8 से साढ़े आठ बजे तक कर लेना चाहिए व रात का खाना सोने से कम से कम 3 घंटे पहले करना चाहिए. 2 मील के बीच कम से से कम 2 से 3 घंटे का अंतर रखना चाहिए. गर्मी का मौसम आ गया है इसलिए पानी का अधिक से अधिक सेवन करें. नीम्बू पानी व रसीले फलों को अपने भोजन में शामिल करें. शरीर में पानी की कमी न होने दें. भोजन में इम्युनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदाथोर्ं को शामिल करें.