अक्सर ऐसा होता है कि जलने का छोटा सा निशान सालों तक नहीं जाता. कई बार तो पूरी जिंदगी के लिए धब्बा बन जाता है. अगर आप या आपके परिचय में किसी के साथ ऐसा हुआ है तो परेशान ना हों. Also Read - Home Remedies: जले के पुराने निशान से ऐसे पाएं छुटकारा, फॉलो करें ये आसान उपाय

Tips: अगर चाय-कॉफी में गिर जाए मक्खी-मच्छर तो क्या उसे पीना चाहिए?

डॉक्टर्स कहते हैं कि जलने के निशान को ‘सिलिकॉन मास्क’ की मदद से दूर किया जा सकता है. इन्द्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल्स के प्लास्टिक एंड कॉस्मेटिक सीनियर कन्सलटेन्ट डॉ. शाहीन नूरेयेज दान ने कहा, ‘भारत में हर साल 10,00,000 से अधिक लोग मध्यम या गंभीर रूप से जल जाते हैं. आज इस क्षेत्र में हुई आधुनिक तकनीकों के चलते ये मरीज भी सामान्य जीवन जी सकते हैं, इनका इलाज संभव है. आज हमारे पास ऐसी आधुनिक मशीनें और तकनीकें हैं जिनके द्वारा बेहद सटीकता के साथ इनका इलाज किया जा सकता है’.

इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल्स के प्लास्टिक सर्जन एवं सीनियर कन्सलटेन्ट डॉ. कुलदीप सिंह ने कहा, ‘जलने के कारण त्वचा और टिश्यूज को नुकसान पहुंचता है. ये मरीज आग, गर्म तरल पदार्थो या रसायनों जैसे एसिड से जलते हैं’.

उन्होंने कहा, ‘बच्चों और वयस्कों में इस तरह की चोट की संभावना एकसमान होती है, इन मामलों में प्लास्टिक सर्जरी न केवल चोट को ठीक करती है बल्कि मनोवैज्ञानिक रूप से भी मरीज को मजबूत बनाती है. कई मामलों में सफल प्लास्टिक सर्जरी से मरीज का आत्मविश्वास बढ़ता है’.

(एजेंसी से इनपुट)

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.