Chandra Grahan 2020: साल 2020 का पहला ग्रहण 10 जनवरी, शुक्रवार को लगेगा. ये चंद्र ग्रहण भारत में दिखाई देगा.

चंद्र ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को विशेष रूप से सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है. इस दौरान कई ऐसी बाते हैं जिनका ध्‍यान रखना चाहिए.

ऐसा कहा गया है कि जो महिला ग्रहण के दौरान सावधानी नहीं बरतती, इसका असर उसके बच्‍चे पर भी होता है.

इन बातों का रखें ध्‍यान-
– ग्रहण के समय अन्न, जल या फल ग्रहण ना करें.

– ग्रहण लगते ही महिला को सीधी अवस्‍था में लेट जाना चाहिए.

क्‍यों खास है साल का पहला चंद्र ग्रहण, ऐसे देख सकेंगे LIVE

– गर्भवती महिलाओं को नुकीली वस्तुएं जैसे कैंची, सुई या चाकू का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

– चंद्र ग्रहण के समय महिला को भगवान का ध्यान करना चाहिए.

– ग्रहण के समय भगवान की मूर्तियों को स्पर्श न करें. मंदिर को ना छुएं.

– चंद्र ग्रहण खत्म होने पर घर में गंगा जल का छिड़काव करें, जिससे नकारात्मकता दूर हो जाएगी।

– ग्रहण समाप्ति के बाद गर्भवती महिलाओं को तुलसी का पत्ता गंगाजल के साथ ग्रहण करना चाहिए.

चंद्र ग्रहण के बाद आएगी सुनामी? जानें ग्रहण से जुड़े हर सवाल का जवाब

– ग्रहण के समय चंद्रमा को न देखें. इससे बच्चे पर बुरा प्रभाव पड़ता है.

– ग्रहण काल के दौरान कपड़ों की सिलाई भी वर्जित कही गई है.

– चंद्र ग्रहण के समय नकारात्मकता दूर करने के लिए गर्भवती महिलाओं को अपने पास नारियल रखना चाहिए.

लाइफस्‍टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.