नई दिल्ली: सर्दी का मौसम होने के बावजूद देश की राजधानी दिल्ली में डेंगू के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. यह बात दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) की एक रिपोर्ट में सामने आई है. एमसीडी द्वारा जारी साप्ताहिक रिपोर्ट के अनुसार, पिछले एक सप्ताह में डेंगू के 24 नए मामले सामने आए हैं जिनको मिलाकर दिसंबर में अब तक कुल 141 मामले हो चुके हैं. पिछले साल 2017 में दिसंबर में डेंगू के 81 मामले सामने आए थे.

Tips: सर्दियों में दूध के साथ छुहारे लेने के फायदे, दूर हो जाएगी हर तरह की कमजोरी

दिल्ली में अब तक डेंगू से चार लोगों की मौत हो चुकी है जिनमें वजीराबाद इलाके की एक 13 साल की लड़की भी शामिल है. अन्य तीन मामले पश्चिमी और उत्तरी दिल्ली में सामने आए हैं. रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली में 2018 में अब तक डेंगू के 2,798 मरीज पाए गए हैं. पिछले साल 4,711 डेंगू के मरीज पाए गए थे. एमसीडी के अनुसार, 2015 में दिल्ली में डेंगू का भारी प्रकोप देखा गया जब 11,800 मामले पाए गए, जिनमें 60 लोगों की मौत हो गई. रिपोर्ट के अनुसार, पिछले सप्ताह मलेरिया के कोई नए मामले सामने नहीं आए हैं जबकि इस महीने मलेरिया से दो लोगों की मौत हो चुकी है.

ALERT: स्‍वास्‍थ्‍य के लिए खतरनाक है ऐसे फल और सब्जियों का सेवन

2017 में 575 मामले आए थे सामने
शहर में नवंबर में मलेरिया के 33 मामले पाए गए. इस साल अब तक मलेरिया के 473 मामले आए हैं जबकि 2017 में 575 मामले आए थे. वहीं, चिकनगुनिया का सिर्फ एक मामला इस सप्ताह सामने आया है, जिसको मिलाकर दिसंबर मे अब तक चार मामले हो गए जबकि नवंबर 28 मामले सामने आए थे. इस साल अब तक चिकनगुनिया के 165 मामले सामने आए हैं जबकि पिछले 557 मामले दिल्ली में पाए गए थे.

अब नहीं जाएगी आंखों की रोशनी, वैज्ञानिकों ने तैयार किया ऐसा अजूबा ‘आई-ड्रॉप’

ऐसे करें बचाव

  • बुखार आने की स्थिति में डॉक्टर की सलाह पर रक्त की जांच कराएं.
  • सोने के लिए मच्छरदानी का इस्तेमाल करें.
  • घर में कहीं पानी एकत्र‍ित ना होने दें. अगर कहीं पानी है तो उसे तुरंत सुखाएं.
  • 30 मिनट तक घर में कपूर जलाकर रखें और उसे जलाते वक़्त सभी खिड़कियां और दरवाजे बंद कर दें. इससे डेंगू के मच्छर मर जाएंगे जो आपके घर के कोनों में छुपे होंगे.
  • स्वास्थ्य कार्यकर्ता आने पर सहयोग करें, ताकि वह लार्वा रोधी कार्य पायरेथम तथा टेमीफॉस का स्प्रे कर सकें.
  • घर की खिड़कियों और दरवाजे पर तुलसी का पौधा लगाएं.
  • घर में कूलर, गमले, छत, पुराने टायर, टूटे -फूटे बर्तन में पानी जमा ना होने दें.
  • पूरी बांह के कपड़े पहनें.
  • बुखार आने पर केवल पेरासीटामाल की गोली लें.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.