कीटो डाइट दुनिया को अपना दिवाना बना रही है लेकिन दूसरी तरफ शायद लोग इस बात से अंजान हैं कि इसके कई सारे ऐसे नुकसान हैं जो आपको तुंरत तो नहीं लेकिन बाद में जरुर पता चलते हैं. जैसे की इसके लेने से आपकी बॉडी में थकान,बॉडी में फाइबर, मिनरल्स और विटामिन्स की कमी हो सकती है. Also Read - कंगना रनौत ने वीडियो शेयर कर लिखा- मार-मार कर चमड़ी उधेड़ दो

यदि आप किसी भी कीटो डाइट को लेने की सचो रहे हैं तो ऐसे में आप खुद से शुरु ना करें पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लेकर ही फॉलो करें ताकि आपके स्वास्थ पर किसी तरह का गलत प्रभाव ना हो. कीटो डाइट करने के निम्नलिखित फायदे हैं, लेकिन आज हम आपको बताएंगे की कैसे ये आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं है. Also Read - Health Tips: जानें क्या होता है Keto Headache, इस समस्या से बचने के लिए अपनाएं यह टिप्स

1. हार्ट प्रॉब्लम
कीटो डाइट आपके हर्ट के लिए अच्छी साबित नहीं होगा, दरअस कीटो डाइट कम समय के लिए वजन कम करने में मदद करती है. लेकिन इसमें कई सारी ऐसी चीजों का सेवन करने की सलाह दी जाती है, जिससे हार्ठ रिस्क बढ़ सकता है. Also Read - Avoid These Food While Dieting: अगर कर रहे हैं डाइटिंग तो इस दौरना नहीं खाएं ये चीजें, कभी नहीं मिलेगी सफलता

2. एथलेटिक परफॉर्मेंस में कमी
कीटो डाइट पर रहने से परफॉर्मेंस में कमी आ जाती है, दरअसल, जब बॉडी कीटोसिस में होती है तो शरीर अधिक अम्लीय अवस्था में रहता है, जो पीक लेवल पर परफॉर्मेंस की क्षमता को लिमिटेड कर देता है.

3. दोबारा वजन बढ़ना
कीटो डाइट को लंबे समय तक फॉलो नहीं करना चाहिए, इसके बाद आपको अपने नॉमर्ल डाइट पर आ जाना चाहिए. कीटो डाइट की बड़ी समस्या यह है कि ज्यादातर लोगों का डाइट छोड़ने के बाद वापस वजन बढ़ने लगता है, क्योंकि वो कार्ब्स का सेवन शुरू कर देते हैं.

4. मसल्स मास कम होता है
कीटो डाइट से जल्दी वजन कम होने का एक कारण यह भी है कि इससे मसल्स को काफी नुकसान होता है. इससे फैट बर्न होने के साथ मसल्स मास भी बर्न होता है. इससे आप जल्दी पतले हो जाते हैं, जब कोई व्यक्ति कीटोजेनिक डाइट से बाहर आता है तो वह मूल वजन का अधिकतर हिस्सा वापस से प्राप्त कर लेता है. लेकिन उसमें लीन मसल्स की अपेक्षा फैट गेन अधिक होता है.