योग से भला क्या संभव नहीं है और आजकल लगभग हर कोई योग को आजकल अपनी जिंदगी में शामिल कर चुका है. लोग मोटापे को कम करने के लिए और तनाव कम करने के लिए योगा करते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं की लंबाई बढ़ाने के लिए भी योगा आपकी काफी हद तक मदद कर सकता है. अगर आप लम्‍बे होना चाहते हैं, ये भी संभव है. जी हां, अब आप अपनी लम्‍बाई बढ़ाने के लिए अपना सकते हैं योग का रास्‍ता. Also Read - Yoga For Knee Pain: अगर आप भी घुटनों के दर्द से हैं परेशान तो इन योगासन को करें ट्राई, जल्द मिलेगा आराम

यूं तो हर इंसान अपनी ग्रोथ और जींस के हिसाब से लंबाई पाता है. बच्चे से लेकर बड़े तक सब अच्छी लंबाई के लिए प्रयास करते रहते हैं. अगर आप लंबे होते हैं तो आपके व्यक्तिव में अच्छा निखार आता है. ऐसे में अगर आप भी नैचुरल तरीके से अपनी लंबाई बढ़ाने चाहते हैं तो इन योगा को करें ट्राइ. Also Read - International Yoga Day 2018: योग और ध्यान से तेज होता है दिमाग, जानें कैसे...

ताड़ासन करें
अपनो दोनों एडी और पंजे थोड़े से गैप देकर खड़े हों, दोनों हाथ कमर की सीध से ऊपर की ओर रखें और हथेलियों के मिलाएं. दोनों हाथों की अंगुलियां भी आपस में मिली होनी चाहिए. इस दौरान कमर सीधी रखें और नजरें सामने साथ ही गर्दन सीधी रखें. दोनों एडियां उपर की और उठती हैं और शरीर का पूरा भार पंजो पर डाल दें. अपने हाथ-पैरों को उठाते हुए पेट को अंदर करें, इससे आपका संतुलन खराब नहीं होगा.

शीर्षसन
इसे करने के लिए वज्रासन मुद्रा में घुटनों के बल बैठ जाएं, आसानी से सांस लेते हुए सिर को घुटनों के सामने फर्श पर रखें. अपनी अंगुलियों को सिर के पीछे से पकड़े और हाथों से सिर के पिछले भाग को सहारा दें. धीरे-धीरे दोनों पैरों के ऊपर उठाएं और एकदम सीधे रखें, पैरों को ऊपर उठाने के लिए आप शुरुआत में दीवार का सहारा लें. इस दौरान अपना शरीर सीधा रखें और संतुलन अच्छा रखें. इश मुद्रा को 15-20 सेकेंड तक गहरी सांस लें और इसी मुद्रा में रहें. सांस छोड़ें और धीरे-धीरे मीचे जमीन पर वापस लाएं.

चक्रासन
पीठ के बल लेंट जाए, इसके बाद अपने दोनों हाथों और पैरों को साध करें, पैरों को घुटने से मोड़े इसके बाद होथों को पीछे की ओर लें औऱ अपने पैरों पर वजन डालते हुए कूल्हों को ऊपर उठाएं. इसके बाद दोनों हाथों पर अपना वजन डालते हुए अपने कंधओं को ऊपर उठाएं और धीरे से कोहनी को सीधे करें अपनी हाथ और पैरों को पूरी तरह से सीधा रखें.

सर्वांगासन
पीठ के बल लेट जाएं औऱ दोनों हाथों को शरीर से सटाकर साधी करें, अब धीरे सांस लेते हुए पैरों,कूलिहों औऱ कमर को ऊपर उठाने की कोशिश करें. कमरर को हाथों का देते हुए कोहनियों को जमीन से सटाएं. इस दौरान आपके शरीर का भार कंधों,कोहनियों और सिर पर होगा. कुछ देर इसी मुद्रा में बने रहे और धीरे-धीरे पैर नीचे करें और उसी अवस्था में आ जाएं.