Eid 2020: ईद एक ऐसा खुशनुमा पर्व है जिसका हर इंसान बेसब्री से इंतज़ार करता है. रमजान के पवित्र महीने में 30 दिनों तक रोज़ा रखने के बाद अल्लाह अपने बंदे को ईनाम के रूप में ईद उल फित्र जैसा त्योहार देता है. चाँद के दीदार के बाद इस पर्व को मनाया जाता है. यह मौका इश्क़ करने वालों के लिए बेहद खास होता है. चाँद में अपने महबूब को तलाशना और फिर उसे याद करना एक खूबसूरत एहसास होता है. यह दिन खुशियों वाला है, एक दूसरे को मुबारक़बाद देने वाला है. इसलिए हम लाए हैं आपके लिए ईद पर कुछ बेहतरीन चुनिंदा शायरी. Also Read - Hina Khan Gorgeous Pics: 'हुस्न-ए-गुलाबी' अपनी अदा पर थोड़ा कम इतरा, रफ़्ता-रफ़्ता हर अंदाज से इश्क हो रहा

ईद पर शायरी (Best Eid Shayari in Hindi)

ईद का दिन है गले आज तो मिल ले ज़ालिम
रस्म-ए-दुनिया भी है मौक़ा भी है दस्तूर भी है
-क़मर बदायुनी Also Read - इस ईद से पहले कभी नहीं दिखीं इरा खान इतनी खूबसूरत, अब आसमां का चांद देखें या धरती का निहारें

तुझ को मेरी न मुझे तेरी ख़बर जाएगी
ईद अब के भी दबे पाँव गुज़र जाएगी
-ज़फ़र इक़बाल Also Read - ज़ालिम लगती है जब भी हरी साड़ी पहनती है ये टीवी एक्ट्रेस, न्यूड मॉडल के साथ भी दे चुकी हैं पोज़

मिल के होती थी कभी ईद भी दीवाली भी
अब ये हालत है कि डर डर के गले मिलते हैं
-अज्ञात

ईद आई तुम न आए क्या मज़ा है ईद का
ईद ही तो नाम है इक दूसरे की दीद का
-अज्ञात

ईद पर हिंदी में शायरी (Top Eid Shayari)

जिस तरफ़ तू है उधर होंगी सभी की नज़रें
ईद के चाँद का दीदार बहाना ही सही
-अमजद इस्लाम अमजद

कहते हैं ईद है आज अपनी भी ईद होती
हम को अगर मयस्सर जानाँ की दीद होती
-ग़ुलाम भीक नैरंग

उस से मिलना तो उसे ईद-मुबारक कहना
ये भी कहना कि मिरी ईद मुबारक कर दे
-दिलावर अली आज़र

ऐ हवा तू ही उसे ईद-मुबारक कहियो
और कहियो कि कोई याद किया करता है
-त्रिपुरारि

Eid Status in Hindi – Eid shayari for lovers

तुम बिन चाँद न देख सका टूट गई उम्मीद
बिन दर्पन बिन नैन के कैसे मनाएँ ईद
-बेकल उत्साही

देखा हिलाल-ए-ईद तो आया तेरा ख़याल
वो आसमाँ का चाँद है तू मेरा चाँद है
-अज्ञात

है ईद का दिन आज तो लग जाओ गले से
जाते हो कहाँ जान मिरी आ के मुक़ाबिल
-मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी

महक उठी है फ़ज़ा पैरहन की ख़ुशबू से
चमन दिलों का खिलाने को ईद आई है
-मोहम्मद असदुल्लाह