नई दिल्ली:  गर्भावस्था में महिलाओं को कई तरह का भोजन खाने और ना खाने की सलाह दी जाती है. प्रेगनेंसी का समय काफी नाजुक होता है. इस समय में महिलाओं को अपना खास ख्याल रखने की जरूरत होती है. कई महिलाएं जो पहली बार प्रेगनेंट हो रही हैं उन्हें इस दौरान क्या खाना है और और क्या नहीं इस बारे में काफी कंफ्यूजन रहता है. ऐसा ही एक कंफ्यूजन है मेथी. क्या गर्भावस्था में मेथी का सेवन करना चाहिए? क्या मेथी शिशु के लिए सही होती है? ऐसे ही कुछ सवालों का आज हम आपको जवाब देने जा रहे हैं. आइए जानते हैं.Also Read - Pregnancy Tips: ओम‍िक्रोन के बढते खतरे के बीच क्‍या आप हो गई हैं प्रेग्‍नेंट, इन बातों का रखें खास ख्‍याल

यूं तो मेथी के कई फायदे हैं लेकिन अगर गर्भावस्था की बात करें तो इस दौरान मेथी लेना महिलाओं के लिए तभी सुरक्षित है जह उसे थोड़ी मात्रा में ली जाए. अधिक मात्रा में लेने से गर्भाशय में समय से पहले संकुचन की शुरुआत हो सकती है. मेथी में हाइपोग्लाइसेमिक प्रभाव पाया जाता है. साथ ही यह ऑक्सीटॉसिन के स्राव को तेज कर सकता है. इन दोनों के परिणामस्वरूप गर्भाशय में संकुचन होता है. गर्भावस्‍था में कम मात्रा में ही मेथीदाना खाना फायदेमंद रहता है. एक चम्‍मच मेथीदानों को एक गिलास पानी में रातभर भिगोकर रख दें और फिर सुबह पानी को छानकर पी लें. Also Read - Pregnancy Tips: प्रेग्‍नेंसी में रोजाना खाएं ये चीजें, सुपर स्‍मार्ट होगा बच्‍चा

प्रेग्‍नेंसी में मेथीदाना खाने के फायदे Also Read - Pregnancy Tips During Winter: सर्दियों में भूलकर भी ये चीजें ना खाएं प्रेग्नेंट महिलाएं, बच्चे को पहुंच सकता है नुकसान

– गर्भावस्‍था के दौरान मेथीदाने का सेवन करने से डिलीवरी के बाद महिलाओं के स्‍तन में पर्याप्‍त दूध आता है.

– अगर आपको भी डिलीवरी का दर्द सता रहा है तो सीमित मात्रा में मेथीदाना जरूर खाएं. यह प्रसव पीड़ा को कम करने में मदद करती है.

– मेथीदाना ब्‍लड शुगर लेवल को संतुलित रखता है जिससे प्रेग्‍नेंसी में मधुमेह से बचाव मिलता है.

प्रेग्‍नेंसी में मेथीदाना खाने के नुकसान

– प्रेगनेंसी में मेथी का अधिक सेवन करना, गर्भाशय संकुचन के लक्षण दिखा सकता हैं. मेथी उन जड़ी-बूटियों में शामिल है, जिन्हें गर्भाशय उत्तेजक माना जाता है. इनका सेवन गर्भावस्था के अंतिम चरण में प्रसव यानी लेबर को प्रेरित करने के लिए किया जाता है.

– प्रेगनेंसी में मेथी का अधिक मात्रा में सेवन करना गर्भवती के पाचन तंत्र पर असर कर सकता है.

– गर्भावस्था में अधिक मेथीदाना खाने की वजह से पेट फूलने, गैस, दस्‍त और मतली हो सकती है. इससे शिशु में कोई जन्‍म विकार भी हो सकता है.

– गर्भावस्था में अधिक मेथी खाने के नुकसान एलर्जी के रूप में भी सामने आ सकते हैं. मेथी का सेवन श्वास से जुड़ी एलर्जी जैसे बंद नाक और खांसी का कारण बन सकता है.