पेडिक्योर करवाने से आपकी डेड स्किन बाहर आ जाती है साथ ही आप के हाथो की टैनिंग दूर हो जाती है और स्किन कोमल हो जाती है इसलिए लोग पोडिक्योरक करवाते हैं. लेकिन हम यहां आम पेडिक्योर की बात नहीं कर रहे हैं हम बात कर रहे हैं फिश पेडिक्योर की जो आजकल लोगों के बीच बहुत मशहूर हो रहा है और लोग जमकर इसका लुफ्त उठा रहे हैं. Also Read - मुंबई के उपनगर के स्‍पा में चल रहा था सेक्‍स रैकेट, विदेशी समेत 5 महिलाएं मिलीं

फिश पेडिक्योर का इन दिनों चलन बढ़ता जा रहा है, लोगों में ये फिश स्पा के नाम से भी मशहूर है. इसमें एक चब में कई सारी मछलियां होती हैं जो आपके पैरों की डेड स्किन को खा जाती हैं और स्किन को सुंदर और कोमल बना जाता हैं. ऐसे में चलिए जानते हैं कि आखिर क्या है ये फिश स्पा और कैसे ये आपके लिए फायदेमंद भी है और नुकसानदेह भी है. Also Read - Bigg Boss 14: लॉकडाउन में कैसे तैयार हुआ बिग बॉस का घर,... मॉल, स्पा और थिएटर बनाना कितना था मुश्किल

ये हैं फिश पेडिक्योर के फायदे: Also Read - दिल्‍ली में स्‍पा में चल रहा था सेक्‍स रैकेट, लड़कियों के साथ आपत्तिजनक हालत में मिले ग्राहक

1.जब आप फिश पेडिक्योर लेते हैं तो आपके पैरों को गरण पानी में रखा जाता है और उसमें कम से कम 20-150 की संख्या में गारा रूफा फिश को छोड़ दिया जाता है, जिनके दांत नहीं होते.

2. फिश पेडिक्योर अगर आप कराते हैं तो इससे आपके पैरों की डेड स्किन दूर हो जाती है साथ ही आपको पैर पहले से कही ज्यादा सुंदर और साफ नजर आने लगते हैं.

3.फिश पेडिक्योर से आपके पैर बेहद मुलायम हो जाते हैं और साथ ही अगर आपको खुजली और दाग धब्बों की समस्या हौ तो उससे भी आपको छुटकारा मिल जाता है.

4. फिश पेडिक्योर की मदद से आपकी ब्लड सर्कुलेशन अच्छा रहता है, साथ ही ये सिरोसिस, मस्‍सा और कॉलयूसिस नामक पैरों की बीमारियों को दूर करती है.

5. अगर आपके पैरों में दर्द है तो इससे आपको आराम का अहसास होगा, साथ ही पैरों से बैक्‍टीरिया को भी ये खत्म कर देते हैं.

ये हैं फिश पेडिक्योर के नुकसान:

1. फिश पेडीक्योर तभी सुरक्षित होते हैं जब उसे करवाते समय साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखा गया हो.

2. अगर आपके पैरों में चोट लगी हो तो फिश पेडीक्योर न करवाएं. ऐसा करवाने से पेडीक्योर करवाते समय चोट से खून बहने लगता है. जो टब में जाकर इंफेक्शन का कारण बनता है.

3.अगर आपकी इम्युनिटी कमजोर है या फिर आप शुगर के मरीज हैं तो भी फिश पेडीक्योर करवाने की गलती न करें.

इन देशों में है मशहूर
टर्की, जापान, सिंगापुर, मलेशिया, सीरिया, इराक और ईरान में ये मछलियां पाई जाती हैं. यूरोप और अमेरिका में भी इसका क्रेज बढ़ गया है और अब भारत में कई जगहों पर इसका इस्तेमाल किया जा रहा है. लेकिन आप इसे करवाने से पहले वहां की साफ-सफाई की जांच कर लें ताकि आपको किसी तरह का नुकसान ना हो.