फिट रहने के कई फायदे हैं. ये तो आप सभी जानते ही होंगे. पर क्‍या आप जानते हैं कि फिट रहने से कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी भी दूर रहती है.

एक नए शोध में ये बातें सामने आई हैं. इसमें पता चला है कि फिटनेस का सकारात्मक प्रभाव हमारे दिल पर पड़ता है. शोध में कहा गया है कि जो लोग कम फिट होते हैं, उनकी तुलना में जिन वयस्कों में फिटनेस की मात्रा अधिक होती है उनमें फेफड़े व कोलोरेक्टल कैंसर या कोलन कैंसर या वृहदांत्र कैंसर के होने की संभावना बहुत कम हो जाती है.

Tips: चाहे कितनी ही गर्मी बढ़ जाए, ये आसान सा नुस्‍खा कभी नहीं लगने देगा लू…

शोध के लिए शोधकर्ताओं ने 49,143 वयस्कों पर साल 1991 से 2009 तक एक्सरसाइज स्ट्रेस टेस्टिंग किया था.

शोध के निष्कर्ष से पता चला कि उच्चतम फिटनेस की श्रेणी में आने वाले लोगों में फेफड़े के कैंसर के विकास की संभावना 77 प्रतिशत और कोलन कैंसर के विकास की संभावना 61 प्रतिशत कम हो गई.

कैंसर नामक जर्नल में इस शोध को प्रकाशित किया गया है. इसमें दर्शाया गया है कि फेफड़े के कैंसर से ग्रस्त व्यक्तियों में से जिनमें फिटनेस की मात्रा उच्चतम थी, जांच के दौरान उनके मरने की संभावना में 44 प्रतिशत की कमी आई और कोलन कैंसर से पीड़ित व्यक्तियों में अधिक फिटनेस की श्रेणी में आने वाले लोगों में 89 प्रतिशत की कमी आई.

कमर, कूल्हे में बना रहता हो दर्द तो आपको हो सकती है ये गंभीर बीमारी!

अमेरिका में जॉन होपकिन्स विश्वविद्यालय के सहायक प्राध्यापक कैथरीन हैंडी मार्शल ने कहा, ‘कैंसर के परिणामों पर फिटनेस के प्रभाव को देखने के लिए हमारा यह शोध सबसे वृहद और विविध समूहों की इकाई में से एक हैं’.

मार्शल ने आगे कहा, ‘आमतौर पर आजकल डॉक्टरों के पास जाकर लोग फिटनेस टेस्टिंग करवाते हैं. पहले से ही कई लोगों के पास इसके परिणाम हो सकते हैं और उन्हें यह सूचित किया जा चुका है कि फिटनेस का कैंसर की संभावनाओं पर क्या प्रभाव है और इसके साथ ही फिटनेस का स्तर अन्य चीजों जैसे कि दिल की बीमारियों के लिए क्या मायने रखती है’.
(एजेंसी से इनपुट)

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.