Geminid Meteor Shower यानी उल्‍कापात से आज रात पूरा आसमान जगमगा उठेगा. इस नजारे को आप भी देख सकते हैं. इसे देखने के लिए टेलीस्‍कोप की जरूरत नहीं होगी. ये अब तक के सबसे खूबसूरत उल्‍कापात नजारों में से एक होगा.

भारत में कब और कहां देखें
भारत में ये 14 दिसंबर यानी शुक्रवार रात को चरम पर दिखेगा. वैज्ञानिकों ने सुझाव दिया है कि इसे भीड़भाड़ वाले इलाकों से दूर जाकर देखेंगे तो बेहतर होगा. आप दूर नहीं जा सकते तो आसपास के खुले इलाके जैसे पार्क आदि में जाकर देखें. वैज्ञानिकों ने मुताबिक हर मिनट आतिशबाजी जैसा नजारा दिखेगा.

photo-of-Geminid-meteor-shower-1.jpg

Geminid Meteor Shower
ये एक खगोलिय घटना है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि आकाश में जेमिनिड्स के कारण अगली कुछ रातों में आकाश में अद्भुत नजारा देखने को मिलेंगे. इसकी तुलना आतिशबाजी से की जाती है.

जेमिनिड मिटियोर शावर एक 3 मील चौड़े ऐस्टरॉयड के कारण बनता है. इस ऐस्टरॉयड को 3200 फेथॉन के नाम से जाना जाता है, जो 523 दिन में एक बार धरती से सबसे करीब से गुजरता है. इसके अलावा सूर्य से नजदीकी के कारण इनका तापमान 800 डिग्री तक पहुंच जाता है.

आपको बता दें, यह मीटियोर शावर रात 12 बजे के आसपास अपने चरम पर होगा और इस दौरान प्रतिघंटे 120 मीटियोर को देखा जा सकेगा जिसे देखने के लिए किसी टेलिस्कोप या दूरबीन का जरूरत नहीं है.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.