अक्‍सर हम सभी के घरों में आलू जब कई दिन पड़े रह जाते हैं तो वे हरे होने लगते हैं. कभी-कभी वे अंकुरित हो जाते हैं. क्‍या ऐसे आलू खाने चाहिए. इन आलुओं को खाने का क्‍या असर होता है? जानें हर सवाल का जवाब.

गंभीर बीमारी का संकेत होते हैं चेहरे पर ये 7 बदलाव, दिखें तो तुरंत चेकअप कराएं…

अंकु‍रित आलू
अंकुरित होने का मतलब ये होता है कि सब्‍जी रसायनिक प्रतिक्रिया से गुजर रही है. इन सब्जियों का सेवन सही नहीं माना जाता. अंकुरित होने पर आलू में पाये जाने वाला कार्बोहाड्रेट starch में बदलने लगते है, जिससे आलू नरम होते हैं.

Potato

हरे रंग के आलू
हरे रंग के आलू नहीं खाने चाहिए. अगर आलू में हरे रंग का हिस्‍सा है तो उसे काटकर अलग कर देना चाहिए. कई बार ऐसा होता है कि हरे रंग का आलू फूड पॉइजनिंग की वजह बन जाता है. इसी तरह से अगर आलू काफी दिन पुराना है और उसमें झुर्रियां सी पड़ रही हैं तो उसे फेंकना ही बेहतर होता है.

क्‍या सर्जरी से पहले नहीं खाने चाहिए Fish Oil Supplements, जानें हर सवाल का जवाब…

कितने आलू खाते हैं भारतीय
कुछ समय पहले एक शोध में पता चला था कि अधिकांश भारतीय रोज आलू खाते हैं. इसमें कहा गया है कि आलू के बिना हर भारतीय का कम से कम एक वक्त का भोजन अधूरा होता है. ये सर्वे किया था फूड टॉक इंडिया ने.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.